अमित शाह के दौरे को लेकर पनपे विवाद पर खट्टर सरकार ने की 25 पैरामिलिट्री फोर्स की कंंपनियों की मांग...

By CHOHAN - February 08, 2018 1:02 pm
अमित शाह के दौरे में अभी वक्त है...लेकिन वक्त से पहले ही सियासी दौरे की सियासी गर्मी...खट्टर सरकार के पसीने छुड़ाने लगी है...क्योंकि अमित शाह के दौरे से ठीक पहले...यशपाल मलिक की अगुवाई वाला जाट समाज...फिर से रोड़ा बनने की तैयारी में है...जसिया में एक बैठक में जाटों ने शाह की रैली का विरोध करने का मन बनाया है...और इस विरोध का लेवल क्या होगा...इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है...कि खट्टर सरकार ने दौरे को देखते हुए केंद्र से पैरामिलिट्री फोर्स की 25 कंपनियों की मांग तक कर डाली है....
जाटों ने धमकी दी है कि वो शाह की रैली में बड़ी संख्या में पहुंचेंगे...यशपाल मलिक ने कहा कि ट्रैक्टरों में भर भर के जाट शाह की रैली में जाएंगी...इतनी बड़ी संख्या में जाएंगे की शाह की रैली जाटों के विरोध में तब्दील हो जाएगी...और इस रैली में जाकर शाह को जाट आरक्षण के बारे में पुरानी यादें ताजा करवाई जाएंगी....
इधर जाटों ने धमकी दी और उधर सरकार ने आनन फानन में 13 जिलों में दर्ज 85 से ज्यादा मुकदमों को एक झटके में रद्द कर डाला...वहीं सुरक्षा के भी इंतजाम पुख्ता किए जा रहे हैं...खुद एडीजीपी जींद का दौरा कर सुरक्षा का जायजा लेने पहुंचे हैं...इधर भाजपा युवा मोर्चा के नेता रैली को सफल बनाने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ रहे...लेकिन इस सब के बावजूद...अमित शाह का ये जींद दौरा...हरियाणा में इन दिनों सियासत का मेन सेंटर बना हुआ है....
adv-img
adv-img