आज से शुरू होगा खेलों का महाकुंभ

हरियाणा के इतिहास में होने जा रहा अब तक का सबसे बड़ा खेल महाकुंभ-2017 आज करनाल में शुरू होने जा रहा है। इसके लिए 5.5 लाख खिलाडिय़ों ने स्वयं का पंजीकरण करवाया है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर आज सायं 4 बजे कर्ण स्टेडियम, करनाल में इस खेल महाकुंभ का उद्घाटन करेंगे।

उद्घाटन समारोह में लगभग 10,000 खिलाड़ी मार्च पास्ट में भाग लेंगे। इस समारोह की अध्यक्षता खेल एवं युवा मामले मंत्री अनिल विज करेंगे। उद्घाटन समारोह के बाद सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया जाएगा। खेल महाकुंभ समारोह का समापन 31 अक्तूबर, 2017 को महावीर स्टेडियम, हिसार में होगा और यह स्वर्ण जयंती समारोहों का अंतिम समारोह भी होगा।

खेल महाकुंभ को जिला स्तरीय और राज्य स्तरीय दो चरणों में बांटा गया है। प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों के खिलाडिय़ों के हितों को ध्यान में रखते हुए जिला और राज्य स्तरीय दोनों चरणों में सर्कल कब्ड्डी और टग ऑफ वॉर को भी शामिल किया गया है। खेल प्रतिस्पर्धाओं में साईक्लिंग को भी शामिल किया गया है।

जिला स्तरीय चरण 27 सितम्बर से आरम्भ होकर 3 अक्तूबर, 2017 तक चलेगा, जिसमें 23 खेलों को आयोजन किया जाएगा। इसी प्रकार, राज्य स्तरीय चरण पांच अक्तूबर से 22 अक्तूबर, 2017 के बीच आयोजित किया जाएगा, जिसमें 25 खेलों का आयोजन किया किया जाएगा।

आपको बता दें कि जिला स्तरीय खेल प्रतिस्पर्धाओं में भाग लेने वाले खिलाडिय़ों को 100 रुपये प्रतिदिन की डाइट दी जाएगी। जिला स्तर पर व्यक्गित प्रतिस्पर्धा में पहला, दूसरा और तीसरा स्थान प्राप्त करने वाले खिलाडिय़ों को 2000 रुपये, 1500 रुपये और 1000 रुपये का नकद पुरस्कार दिया जाएगा। इसी प्रकार, तीन प्रतिस्पर्धाओं में पहला, दूसरा और तीसरा स्थान हासिल करने वालों को क्रमश: 1500 रुपये, 1000 रुपये और 750 रुपये का नकद पुरस्कार दिया जाएगा। वहीं राज्य स्तरीय खेल प्रतिस्पर्धाओं में भाग लेने वाले खिलाडिय़ों को 300 रुपये प्रतिदिन की डाइट दी जाएगी। मार्च पास्ट में भाग लेने वाले खिलाडिय़ों को टै्रकसुट दिए जाएंगे। राज्य स्तर पर व्यक्गित प्रतिस्पर्धाओं  में पहला, दूसरा और तीसरा स्थान प्राप्त करने वाले खिलाडिय़ों को क्रमश: 5000 रुपये, 3000 रुपये और 2000 रुपये का नकद पुरस्कार दिया जाएगा। इसी प्रकार, राज्य स्तर पर टीम  प्रतिस्पर्धाओं में पहला, दूसरा और तीसरा स्थान प्राप्त करने वालों को क्रमश: 3000 रुपये, 2000 रुपये और 1000 रुपये का नकद पुरस्कार दिया जाएगा।

राज्य सरकार ने हॉकी कप्तान सरदार सिंह को 7.5 लाख रुपये की एक सम्मान राशि, जैसा कि राजीव गांधी खेल रतन अवार्ड के रूप में केन्द्र सरकार द्वारा दी जाती है, देकर सम्मानित करने का निर्णय लिया है।

तीन वर्षों के दौरान राज्य सरकार ने 7037 खिलाडिय़ों को लगभग 168 करोड़ रुपये के नकद पुरस्कार दिए हैं। इस वर्ष भी सरकार लगगभ 40 करोड़ रुपये के नकद पुरस्कारों से लगभग 2500 खिलाडिय़ों को सम्मानित करेगी।