कबूतरबाज़ी के चलते हिसार ज़िले के तीन युवक मलेशिया में फंसे

कबूतरबाजी का एक बड़ा मामला सामने आया है। जिसमें हिसार ज़िले के 3 युवाओं से विदेश में नौकरी लगवाने के नाम पर धोखाधड़ी की गई और उन्हें मलेशिया में लावारिस हालत में छोड़ दिया गया। जिस पर पुलिस ने अब कबूतरबाजी के आरोप में बरवाला के पिता पुत्र पर केस दर्ज किया है।
बरवाला वासी जितेंद्र कुमार ने आरोप लगाया कि बरवाला वासी चंद्रप्रकाश जो मलेशिया गया हुआ है, ने उनके भाई सुनील कुमार व दूसरे युवक बरवाला वासी प्रवीण कुमार व नारनौंद निवासी सुनील कुमार को टेलीफोन करके झांसा दिया कि वह उन्हें मलेशिया में ₹45000 प्रति माह की नौकरी दिलवा देगा। जिस पर बरवाला से सुनील कुमार, प्रवीण कुमार व सुनील कुमार वासी नारनौंद उनके झांसे में आ गए। मलेशिया गए आरोपी चंद्रप्रकाश ने उन्हें कहा कि उनके पिता बरवाला वासी बलवंत के पास प्रति व्यक्ति डेढ़ लाख रुपए की राशि जो तीनों युवाओं की कुल साढ़े चार लाख रुपए बनती है जमा करवा दो। जिस पर पीड़ित युवकों ने विदेश जाने के लालच में साढ़े चार लाख रुपए की राशि आरोपी युवक चंद्रप्रकाश के पिता बलवंत सिंह के पास जमा करवा दी और उनके पासपोर्ट की स्कैन कॉपी ले ली तथा उन्हें मलेशिया का टिकट थमा दिया। आठ जनवरी को जयपुर से मलेशिया की फ्लाइट पकड़कर तीनों युवक सुनील बरवाला, प्रवीण  बरवाला और सुनील नारनौंद मलेशिया पहुंच गए। वहां पहुंचने के बाद आरोपी चंद्रप्रकाश ने उन्हें यहां वहां घुमाने के बाद लावारिस हालत में छोड़ दिया।
सोशल मीडिया पर वह तीनों युवकों का वीडियो वायरल…..
मलेशिया गए सुनील बरवाला, प्रवीण बरवाला व सुनील नारनौंद ने जब खुद को मलेशिया में फंसा हुआ पाया तो उन्होंने अपनी मदद की गुहार सोशल मीडिया के माध्यम से लगाई। यह वीडियो वायरल होता हुआ बरवाला पहुंचा और उक्त तीनों युवकों के परिजनों को इसका पता लगा। इस वीडियो में तीनों युवक साफ तौर पर बोल रहे हैं कि आरोपी चंद्रप्रकाश व उनके पिता बलवंत सिंह ने उनके साथ बड़ी साजिश की है और पैसे ऐंठ कर उन्हें मलेशिया में फंसा दिया है। यहां तक कि यहां पर उनका पासपोर्ट भी छीन लिया गया है।
पुलिस ने किया पिता-पुत्र के खिलाफ केस दर्ज ……
डीएसपी जयपाल सिंह ने बताया कि बरवाला वासी जितेंद्र कुमार ने पुलिस को शिकायत दी थी जिसमें उन्होंने आरोप लगाया था कि बरवाला वासी चंद्रप्रकाश व उनके पिता बलवंत सिंह ने कबूतरबाजी करते हुए पैसे ऐंठकर उनके चचेरे भाई सुनील कुमार एक अन्य युवक सुनील बरवाला व सुनील नारनौंद को मलेशिया में छोड़ दिया है। जहां पर वे फंसे हुए हैं और उनका पासपोर्ट छीन लिया गया। जिस पर बरवाला पुलिस द्वारा आरोपी युवक चंद्रप्रकाश व बलवंत सिंह के खिलाफ जालसाजी का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है तथा जांच शुरू कर दी गई है।