कानून व्यवस्था

खालिस्तानी धमकी के बाद अंबाला रेलवे स्टेशन पर बढ़ी सुरक्षा, GRP-RPF अलर्ट मोड पर

By Vinod Kumar -- June 03, 2022 2:15 pm

सिख फॉर जस्टिस के सरगना गुरपतवंत सिंह पन्नू द्वारा हरियाणा सरकार को ट्विटर पर 3 जून को ट्रेनें बंद करने की धमकी दी गई थी। धमकी में कहा गया था कि 3 जून को कोई भी रेलगाड़ी पंजाब न जाए जिसे लेकर आरपी व आरपीएफ ने अंबाला छावनी रेलवे स्टेशन पर एक स्पेशल चेकिंग अभियान चलाया। इस दौरान रेलवे स्टेशन समेत रेलगाड़ियों की गहनता से छानबीन की गई।

इस अभियान में सुरक्षा बल ने डॉग स्क्वॉयड की भी मदद ली। एसएचओ थाना जीआरपी ने कहा कि ये चेकिंग सिख फॉर जस्टिस द्वारा धमकी के बाद की जा रही है। अंबाला छावनी जीआरपी थाने के अध्यक्ष ने बताया कि जीआरपी और आरपीएफ पूरी तरह से स्टेशन पर मुस्तैद है। डॉग स्क्वायड के साथ सारे स्टेशन और रेलगाड़ियों की बारीकी से चेकिंग की जा रही है।

धमकी पहले अंबाला रेलवे डीएसपी को भेजी गई और बीते कल जीआरपी थाना इंचार्ज कुरुक्षेत्र को भी फोन पर दोबारा से धमकी दी गई है जिसको लेकर हम पूरी तरह सतर्क है। दिन में दो से तीन बार हर आने जाने वाले की और उनके सामान की चेकिंग की जा रही है। वहीं खुफिया विभाग भी पूरी तरह सतर्क है।

इसके साथ ही आरपीएफ  का कहना है कि खालिस्तानी समर्थक गुरपतवंत सिंह पन्नू ने अंबाला के साथ-साथ कुरुक्षेत्र के GRP SHO को फोन पर धमकी दी है। पुलिस अलर्ट पर है। स्टेशन पर होने वाली हर गतिविधि पर बारीकी से नजर रखी जा रही है। किसी भी स्थिति से निपटने की पूरी तैयारी है।

 

 

 

  • Share