डेरा प्रमुख राम रहीम से मुलाकात के लिए परिजन पहुंचे जेल… सुरक्षा गार्ड भी रहे साथ

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम के परिजन एक बार फिर सोमवार को मुलाकात के लिए जेल पहुंचे। परिजनों ने राम रहीम का हालचाल पूछा और फिर सिरसा के लिए रवाना हो गए। परिजन यहां सुरक्षा कर्मियों के साथ तीन गाडि़यों में आए थे। वहीं, कुछ अनुयायी भी यहां पहुंचे थे।

डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को सीबीआई की विशेष अदालत ने दो साध्वियों से रेप मामले में 28 अगस्त को 20 साल की सजा सुनाई थी। सजा सुनाने के लिए रोहतक की सुनारिया जेल परिसर में ही अदालत लगाई गई थी। इससे पहले 25 अगस्त को पंचकूला में सीबीआई के विशेष जज जगदीप सिंह ने राम रहीम को दोषी ठहराया था। जिसके बाद हिंसा भड़क उठी और राम रहीम रहीम को हेलीकॉप्टर के जरिए रोहतक जेल भेज दिया गया। तब से लेकर आज तक डेरा प्रमुख इसी जेल में हैं। जेल में उसे बाकी बैदियों से अलग सैल में रखा गया है और किसी भी कैदी को उससे मिलने की इजाजत नहीं है। राम रहीम से जेल में मुलाकात के लिए सोमवार व वीरवार का दिन निर्धारित है।

सोमवार दोपहर को राम रहीम से मुलाकात के लिए पुत्र जसमीत, पुत्री चरणप्रीत व दामाद रुह ए मीत जेल पहुंचे। वे राजस्थान नंबर की मारूति कार नंबर आरजे 13 यूए 6491 में सवार थे। उनके साथ सुरक्षा गार्ड अलग गाड़ी में सवार थे। जेल की ओर जाने वाले नाके पर कार रूकवा कर चेकिंग की गई। फिर परिजन जेल के अंदर मुलाकात के लिए गए। मुलाकात के बाद 3 बजकर 15 मिनट पर वे सिरसा की ओर रवाना हुए। इस दौरान राम रहीम से मुलाकात की आस में कुछ अनुयायी भी जेल के बाहर पहुंच गए, लेकिन सुरक्षा कर्मियों ने उन्हें आगे नहीं जाने दिया। एक अनुयायी तो ऐसा था जिसने अपने सिर पर एमएसजी लिखवाया हुआ था।