डेरा हिंसा में हुए नुक्सान के आंकड़े आए सामने…अब जल्द डेरा सच्चा सौदा करेगा नुक्सान की भरपाई

गुरमीत राम रहीम की गिरफ़्तारी की बाद हुई हिंसा और आगज़नी में प्रदेश को 126 करोड़ से भी ज़्यादा का नुक्सान झेलना पड़ा है। यह ख़ुलासा ऐडवोकेट जनरल कार्यालय ने पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट में दायर किए अपने जवाब में किया है। इस नुक्सान में निजी और सार्वजनिक संपत्तियों को पहुँचने वाला नुक्सान शामिल है।  इस रिपोर्ट के मुताबिक़ सब से अधिक नुक्सान अंबाला ज़िला में हुआ है। इस ज़िले में 46 करोड़ से अधिक का नुक्सान हुआ है।  फतेहाबाद में 14.87 करोड़ का नुक्सान हुआ है। सिरसा में 13 करोड़ से ज़्यादा और पंचकुला में 10 करोड़ से अधिक का नुक्सान हुआ है।

अगस्त के घटनाक्रम के बाद पहली बार कुल नुक्सान का आँकड़ा सामने आया है। अदालत इस मामले में पहले ही ताक़ीद कर चुकी है कि दंगों के कारण होने वाली हानि की भरपाई डेरा प्रमुख की सम्पत्ति से ही की जाएगी।  माना जा रहा है इस रिपोर्ट के पेश हो जाने के बाद अब गुरमीत राम रहीम की सम्पत्ति को ज़ब्त करने और इसे पीड़ितों को दिए जाने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।

वहीं इस बीच डेरा सच्चा सौदा में एक बार फिर से एक बड़े समागम की योजना बनने लगी है। डेरा में इस के संस्थापक शाह सतनाम की जन्म तिथि मनाने की तैयारियां चल रही है। लेकिन हिंसा की आशंका को देखते हुए सरकार इस के लिए अनुमति देने के मूड में नहीं है। स्थानीय पुलिस ने हिदायत जारी की है कि डेरे में कोई भी कार्यक्रम सरकार की अनुमति के बिना ना किया जाए।