पूर्व फौजी ने सरेआम मारी पत्नी को गोली…पत्नी के चाल-चलन पर था शक..

अंबाला में सरेआम एक पूर्व फौजी ने पुलिस चोंकी के बाहर अपनी पत्नी को गोली मार उसकी हत्या कर दी। पूर्व फौजी अपनी पत्नी के चाल चलन से परेशान था जिसके चलते आज वो अपनी पत्नी को मनाने के लिए पुलिस चोंकी आया था लेकिन जब पत्नी नही मानी तो उसने पत्नी को अपनी लाईसेंसी पिस्टल से 2 गोलियां मार दी। आरोपी ने कहा कि वो अपनी बीवी को बहुत प्यार करता था इसलिए उसने अपनी पत्नी को गोली मार दी नही तो उसे ऐसे ही छोड़ भी सकता था।

लाडवा के रहने वाले पूर्व फौजी विक्रम ने अपनी लाईसेंसी पिस्टल से पुलिस चोंकी बलदेव नगर के बाहर अपनी पत्नी गुरप्रीत कौर की गोली मारकर हत्या कर दी। पूर्व फौजी अपनी पत्नी के चाल चलन से काफी परेशान था जिसको लेकर उसने अपनी पत्नी को कई बार समझाने की कोशिश की लेकिन वो नही मानी तो उसने पुलिस चोंकी के बाहर ही अपनी पत्नी को गोलियों से भुन डाला। विक्रम ने अपनी पत्नी के सिर में 2 गोलियां मारी जिसके बाद गुरप्रीत ने मौके पर ही दम तौड़ दिया। गोली चलने की आवाज जैसे चोंकी में बैठे पुलिस कर्मियों को आई तो वो बाहर की तरफ भागे जाकर देखा तो गुरप्रीत निचे गिरी हुई थी और आरोपी के हाथ में पिस्टल थी। उसके बाद पुलिस ने विक्रम को काबू में लिया और उससे हथियार छिना व उसे हिरासत में लिया।

बताया जा रहा है कि गुरप्रीत की माँ ने पुलिस चोंकी बलदेव नगर में एक शिकायत दी थी जिसमे उसने लिखा था कि उसकी बेटी गुरप्रीत को एक महिला ने अपने पास रख रखा है जिसके बाद विक्रम अपनी पत्नी को मनाने के लिए अंबाला आया था। उसने अपनी पत्नी के पैर भी पकड़े कि वो उसके साथ वापिस लाडवा चले लेकिन वो नही मानी तो गुस्से में अपना आपा खोते हुए विक्रम ने गुरप्रीत पर 2 फायर कर दिए।

विक्रम ने बताया कि वो फौज से रिटायर्ड है और अब बैंक में गार्ड की नौकरी करता है उसकी बीवी का चाल चलन ठीक नही था जिसको लेकर उसने बहुत कोशिशे अपनी पत्नी को समझाने की कि लेकिन वो समझी नही। आज भी वो अपनी पत्नी को साथ ले जाना चाहता था लेकिन वो तैयार नही हुई। विक्रम ने कहा उसे अपनी पत्नी को मारने का बहुत पछतावा है वो अपनी बीवी से बहुत प्यार करता है इसलिए उसने उसे गोली मार यदि प्यार न करता होता तो उसे ऐसे ही छोड़ देता लेकिन वो उसे ऐसे नही देख सकता था जिसके बाद उसे मजबूरन उसे ऐसा करना पड़ा।  विक्रम ने रोते हुए कहा उसकी पत्नी रात से उसके साथ थी यदि वो चाहता तो उसे मारकर कहीं भी फेंक सकता था जहाँ उसकी लाश को कुत्ते खाते लेकिन उसने ऐसा नही किया उसने अपनी पत्नी को इसीलिए गोली मारी है। ताकि उसकी लाश के साथ ऐसा कुछ न हो।