सेरेब्रल पैल्सी जैसी बीमारी ने रितेश के आगे घुटने टेक दिए…

मेडिकल साइंस में एक शब्द है सेरेब्रल पैल्सी…वो हालत जिसमें इंसान का शरीर…उसके खुद के बस में नहीं होता…मतलब दिमाग और शरीर का सही संतुलन नहीं बन पाता…ऐसे में इंसान सही तरीके से चल नहीं पाता, उठ नहीं पाता, बैठ नहीं पाता, रोजमर्रा के काम भी नहीं कर पाता…
और अब आपको मिलवाते हैं करनाल के रितेश सिन्हा से…वो शख्स…जिसने इस बीमारी को खुला चैलेंज किया…और सेेरेब्रल पैल्सी के वावजूद…न सिर्फ खुद को कामयाब बनाया…बल्कि अपने पैरों पर खड़ा भी है…रितेश ने नेचुरोपैथी में ऑनरेरी डॉक्टरेट की डिग्री तक हासिल कर डाली और गिन्नीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में रितेश सिन्हा का नाम भी दर्ज है…
रितेश बचपन से सेरेब्रल पैल्सी के शिकार हैं…लेकिन धीरे धीरे उन्होंने इससे लड़ना शुरू किया…पहले खुद को संभाला…और अब दूसरे लोगों को इसबारे में जागरुक कर रहे हैं…रितेश ने एक आसन भी खुद ही इजाद कर डाला…जिसे करने से सेरेब्रल पैल्सी के मरीज को दवाइयों पर निर्भर नहीं रहना पड़ता…
रितेश का सपना अब अपनी एक एनजीओ खोलने का है जिसके जरिए वो लोगों को सेरेब्रल पैल्सी के बारे में और ज्यादा बता सकें…रितेश जिस आसन के लिए लोगों को प्रेरित करते हैं उसका नाम उन्होंने रितेश मुद्रा रखा है…अब रितेश का ये जज्बा..दूसरे लोगों को भी प्रेरित कर रहा है…और करीब 100 से ज्यादा लोग…अब रितेश के इस आसन का…फायदा उठा रहे हैं….