21 साल की लड़की पर लगा 17 साल के लड़के के साथ दुष्कर्म का आरोप

क्या कभी किसी लड़की पर किसी लड़के के साथ यौन दुष्कर्म का मामला सामने आया है। सुनने में थोड़ा अजीब लगता है। लेकिन ऐसा ही मामला जिला यमुनानगर में रिपोर्ट हुआ है।

17 साल की उम्र के एक किशोर ने 21 साल की लड़की पर उसका यौन शोषण करने और उसके साथ जबरदस्ती यौन संबंध बनाने का आरोप लगाया है।

दरअसल इन दोनों के बीच प्रेम प्रसंग का यह खेल पिछले तीन साल से चला आ रहा बताया जा रहा है। लेकिन पिछले दिनों दोनों अपने – अपने घर से गायब हो गए। जिसके चलते मामला पुलिस तक पहुंचा । एक सेफ हाऊस से पुलिस दोनों को खोजने में कामयाब भी हो गई । लेकिन मामला सुलझने की बजाए और उलझ गया ।

पकड़े जाने के बाद लड़की को उसके परिजन घर ले गए । लेकिन लड़के को छछरोली के बालकुंज में भेज दिया गया । लड़के के परिवार ने उसे बालकुंज भेजे जाने पर कड़ा विरोध किया । इनका कहना है कि उसका बच्चा नाबालिग है और उल्टा उसका यौन शोषण किया गया है। ऐसे में लड़की जो की बालिगा है , के खिलाफ पोस्को एक्ट के तहत मामला दर्ज किया जाए।

लङके के परिजनो की इस शिकायत का जिले की चाइल्ड प्रोटेक्शन कमेटी ने संज्ञान लिया है और लड़की के खिलाफ पोस्को एक्ट के तहत मामला दर्ज करने की सिफारिश की है। वही लड़की के परिजनों ने भी लड़के के खिलाफ रेप का मामला दर्ज करवाने की धमकी दे दी है।

जिले की बाल संरक्षण कमेटी का कहना है कि पोस्को एक्ट जैंडर न्यूट्रल है और नाबालिग चाहे लड़का हो या लड़की , उसका यौन शोषण करने वाले के खिलाफ मामला तो बनता ही है। काफी  टालमटोल के बाद जिला पुलिस ने भी मामला दर्ज कर लिया है।

लङकी के खिलाफ भले ही पोस्को एक्ट के तहत मामला दर्ज हो गया है लेकिन क्या यह बात कोर्ट में साबित हो सकेगी। इसे लेकर कई तरह के सवाल खङे हो रहे हैं।