adv-img
हरियाणा

हरियाणा में स्थापित होंगे 6 ऑटोमेटिड व्हीकल टेस्टिंग स्टेशन, इन छह जिलों को मिलेगी सौगात

By Vinod Kumar -- October 21st 2022 03:36 PM

चंडीगढ़: हरियाणा सरकार ऑटोमेटेड टेस्टिंग स्टेशनों के जरिए वाहनों की फिटनेस जांच के लिए प्रदेश में 6 ऑटोमेटिड व्हीकल टेस्टिंग स्टेशन स्थापित करेगी। यह स्टेशन अंबाला, फरीदाबाद, हिसार, करनाल, गुरुग्राम और रेवाड़ी में स्थापित किए जाएंगे। इन स्टेशनों पर लगभग 116 करोड़ रुपये की लागत आने की संभावना है।

मुख्य सचिव संजीव कौशल ने वीरवार को चंडीगढ़ में सचिव समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए परिवहन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि एक माह में ऑटोमेटेड टेस्टिंग स्टेशनों के प्रारूप को फाइनल किया जाए, ताकि जल्द से जल्द टेस्टिंग स्टेशनों को बनाने की प्रक्रिया आरंभ हो सके। उन्होंने निर्देश दिए कि दिल्ली में चल रहे ऑटोमेटिड टेस्टिंग स्टेशन का भी दौरा कर वहां तकनीकि, वाणिज्यिक पहलूओं का बारीकी से अध्ययन करें।

उन्होंने कहा कि यह स्टेशन पीपीपी मोड पर बनाए जाएंगे। केंद्र सरकार 1 अप्रैल 2023 से भारी माल वाहक वाहनों और भारी यात्री वाहनों का फिटनेस टेस्ट एटीएस से करने को अनिवार्य किया गया है। वहीं, मध्यम माल वाहक वाहनों, यात्री वाहनों और हल्के माल वाहक वाहनों के लिए 1 जून 2024 से लागू करने का प्रस्ताव है। इसलिए राज्य में ऑटोमेटेड टेस्टिंग स्टेशन स्थापित करना अति आवश्यक है।

उन्होंने कहा कि भविष्य में स्क्रैप नीति को भी इन ऑटोमेटेड टेस्टिंग स्टेशनों से जोड़ने पर भी विचार किया जा रहा है। जिन वाहनों का इन स्टेशनों से फिटनेस परीक्षण नहीं होगा, वो वाहन सीधे स्क्रैप में जाएंगे। राज्य सरकार ने त्वरित कदम उठाते हुए जल्द से जल्द इन स्टेशनों को स्थाीपित करने की कार्रवाई तेज कर दी है। बैठक में बताया गया कि वर्तमान में रोहतक में एक वाहन फिटनेस स्टेशन संचालित है। इसके अलावा, 6 और नए स्टेशन बनाये जाएंगे। यह स्टेशन आगामी 20 वर्षों के विजन के अनुरूप तैयार किए जाएंगे।

यह स्टेशन 3 लेन, 4 लेन या 6 लेन में बनाये जाएंगे। बैठक में बताया गया कि एटीएस स्वचालित तरीके से वाहन के फिटनेस की जांच के लिए कई मशीनों का इस्तेमाल करता है। इलेक्ट्रिक वाहनों की जांच के लिए भी भविष्य में कई नए उपकरणों को शामिल किया जा सकता है। एटीएस मैकेनिकल इक्यूप्मेंट्स के जरिए वाहन की फिटनेस की जांच करने के लिए सभी जरूरी परीक्षणों को ऑटोमैटिक तरीके से करता है।

बैठक में बताया गया कि इन स्टेशनों में ‌वाहनो की फिटनेस जांच करवाने के लिए आने वाले लोंगों के लिए सुविधाएं मुहैया करवाने पर भी प्रारूप तैयार किया गया है। इनमें एटीएम,लॉन्ज, कैफे‌टेरिया इत्यादि सुविधाएं उपलब्ध होंगी।

  • Share