अभय सिंह चौटाला बोले- मंडियों में गेहूं की खरीद तुरंत शुरू करे सरकार

चंडीगढ़। इंडियन नेशनल लोकदल के प्रधान महासचिव एवं पूर्व विधायक अभय सिंह चौटाला ने मंगलवार को चंडीगढ़ से एक बयान जारी करते हुए कहा कि भाजपा-गठबंधन सरकार जहां कोरोना महामारी से प्रदेश के लोगों की सुरक्षा करने में असफल रही है वहीं इस महामारी की आड़ में किसानों के लिए अभिशाप साबित हुई है।
इनेलो नेता ने कहा कि भाजपा गठबंधन-सरकार किसान विरोधी है इसका उदाहरण सभी के सामने है, पहले तो अधिकारियों के साथ मिलीभगत कर प्रदेश से बाहर का गेहूं धड़ल्ले से प्रदेश की मंडियों में खरीद कर बड़ा घोटाला किया। जब इनेलो ने इसका विरोध किया और इसके खिलाफ आवाज उठाई तो मंडियों में गेहूं की खरीद ही बंद कर दी। इस पर इनेलो नेता ने सरकार की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि प्रदेश का किसान जिसकी गेहूं अभी तक नहीं खरीदी गई वो अपनी गेहूं कहां बेचने जाएगा। साथ ही जिन किसानों का गेहूं खरीदा जा चुका है उनका बकाया लगभग साढ़े 7 हजार करोड़ रुपए का भुगतान अभी तक नहीं हुआ है।

अभय ने कहा कि किसान विरोधी होने का दूसरा प्रमाण है कि प्रदेश की भाजपा-गठबंधन सरकार ने किसानों को डीएपी का कट्टा पुराने रेट पर देने का वायदा किया था लेकिन किसानों को डीएपी का कट्टा आज पुराने रेट 1200 रूपए की बजाय मजबूरी में 1900 रूपए में खरीदना पड़़ रहा है।

इनेलो नेता ने प्रदेश की भाजपा-गठबंधन सरकार को चेताते हुए कहा कि मंडियों में तुरंत प्रभाव से गेहूं की खरीद शुरू करे और डीएपी को पुराने रेट में किसानों को उपलब्ध करवाए, साथ ही किसानों की गेहूं का जो बकाया है उसका तुरंत भुगतान करे नहीं तो इनेलो प्रदेश की भाजपा-गठबंधन सरकार के खिलाफ बड़ा आंदोलन छेड़ेगी।