पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री की दो टूक, मरीजों से लूट करने वाले प्राईवेट अस्पतालों के खिलाफ़ होगी कार्रवाई

पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री की दो टूक, मरीजों से लूट करने वाले प्राईवेट अस्पतालों के खिलाफ़ होगी कार्रवाई

चंडीगढ़। कोविड-19 महामारी दौरान मरीजों की मजबूरी का फ़ायदा उठाकर उनकी आर्थिक लूट करने वाले अस्पतालों के खि़लाफ़ सरकार द्वारा सख़्त कार्यवाही की जायेगी। इस बात का खुलासा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने इंडियन मैडीकल एसोसिएशन की राज्य स्तरीय समिति के साथ की गई वर्चुअल मीटिंग दौरान किया।

उन्होंने कहा कि प्राईवेट अस्पतालों द्वारा सरकार द्वारा तय रेटों से अधिक पैसे वसूलने संबंधी शिकायतें आ रही हैं और ऐसा करने वाले किसी भी अस्पताल को बख्शा नहीं जायेगा। उन्होंने कहा कि हमारी कोशिश है कि जो भी काम किया जाये वह सरबत दे भले के लिए हो परन्तु यदि कोई अस्पताल या डॉक्टर किसी भी मरीज़ की लूट-मार करते हैं तो सरकार को उनके खि़लाफ़ सख़्त कार्यवाही के लिए मजबूर होना पड़ेगा।

उन्होंने बताया कि महामारी एक्ट के अधीन सरकार के पास यह अधिकार है कि ऐसा करने वाले अस्पतालों को सरकार बंद कर सकती है या फिर अपने अधीन लेकर चला सकती है।

यह भी पढ़ें- लॉकडाउन में हरियाणा पुलिस ने पकड़ी अवैध शराब की खेप

यह भी पढ़ें- हुड्डा ने सीएम खट्टर को लिखा खुला पत्र

उन्होंने सभी प्राईवेट अस्पतालों से अपील की कि किसी भी मरीज़ की मजबूरी का फ़ायदा न उठाया जाये और इसको एक चेतावनी समझा जाये और सरकार को कोई सख़्त कार्यवाही करने के लिए मजबूर न किया जाये।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि राज्य में दवाओं और ऑक्सीजन की काला बाजारी को रोकने के लिए सख़्त कदम उठाए जा रहे हैं और ऐसा करने वाले किसी भी व्यक्ति के खि़लाफ़ भी सख़्त कानूनी कार्यवाही की जायेगी। ऑक्सीजन की गुणवत्ता या रिफिल किये सिलेंडरों में कम ऑक्सीजन भरने के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि ऐसा करने वाले वैंडरों के खि़लाफ़ भी सरकार कानूनी कदम उठा रही है।