अकाली दल ने कार्यकर्ताओं और सुखबीर बादल पर हमले की निंदा की, CM का इस्तीफा मांगा

SAD asks CM to tell Punjabis what action he had taken in Jalalabad attack against Sukhbir Singh Badal

चंडीगढ़। अकाली दल ने पार्टी कार्यकर्ताओं और सुखबीर सिंह बादल पर जलालाबाद में हुए हमले की कड़ी निंदा की है। अकाली दल ने आरोप लगाया कि कांग्रेस के गुंडों ने इस वारदात को अंजाम दिया है। साथ ही पार्टी ने सुखबीर बादल पर पूर्व निर्धारित हमले और बिगड़ती कानून व्यवस्था की स्थिति को लेकर पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह से इस्तीफे की मांग की है।

Cong goons Attacked on Akali Worker
अकाली दल ने कार्यकर्ताओं और सुखबीर बादल पर हमले की निंदा की, CM का इस्तीफा मांगा

एक बयान में, पार्टी के प्रवक्ता डॉ. दलजीत सिंह चीमा ने कहा, “ऐसा लगता है कि अकाली दल के अध्यक्ष के जीवन पर एक पूर्व निर्धारित प्रयास था और जलालाबाद पुलिस इस अपराध में शामिल थी क्योंकि पुलिस ने हमलावरों को भागने दिया। इस हमले की पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश की देखरेख में एक उच्च स्तरीय न्यायिक जाँच होनी चाहिए।”

Cong goons Attacked on Akali Worker
अकाली दल ने कार्यकर्ताओं और सुखबीर बादल पर हमले की निंदा की, CM का इस्तीफा मांगा

अकाली नेता ने इस अवसर पर कांग्रेस विधायक रामिंदर आवला के बेटे के नेतृत्व में गुंडों द्वारा की गई गोलीबारी की भी निंदा की। उन्होंने कहा कि तीन अकाली कार्यकर्ताओं को गोली लगी है।

यह भी पढ़ें- बजट पर विपक्षी नेताओं की प्रतिक्रिया, मनीष सिसोदिया बोले- दिल्ली के साथ धोखा किया

यह भी पढ़ें- Budget 2021: पेट्रोल पर ढाई तो डीजल पर लगाया गया 4 रुपए कृषि सेस

डॉ. दलजीत सिंह चीमा ने आगे कहा कि हम इन परिस्थितियों में स्वतंत्र और निष्पक्ष नगर निकाय चुनाव की उम्मीद नहीं कर सकते। राज्य चुनाव आयोग कांग्रेस के गुंडा तत्वों पर लगाम लगाने में पूरी तरह से विफल रहा है। इसलिए अकाली दल ने चुनाव में अर्ध-सैन्य बलों की तत्काल तैनाती की मांग की है।

Cong goons Attacked on Akali Worker
अकाली दल ने कार्यकर्ताओं और सुखबीर बादल पर हमले की निंदा की, CM का इस्तीफा मांगा

गौर हो कि जलालाबाद में नगर काउंसिल का चुनाव हो रहा है। इस चुनाव में शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल पार्टी के उम्मीदवार का नामांकन दाखिल करवाने जा रहे थे। लेकिन जैसे ही सुखबीर बादल का काफिला जलालाबाद कोर्ट कॉंप्लैक्स पहुंचा तो पत्थरबाजी और फायरिंग शुरू हो गई। कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने सुखबीर बादल के काफिले की गाड़ी पर हमला कर दिया। घटना के विरोध में अकाली दल के प्रधान सुखबीर सिंह बादल धरने पर बैठ गए हैं और आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।