चक्रवाती तूफान 'अम्फान' के तीव्र होने की संभावना, स्थिति की समीक्षा करेंगे मोदी

By Arvind Kumar - May 18, 2020 1:05 pm

नई दिल्ली। चक्रवाती तूफान 'अम्फान' के अगले कुछ में तीव्र होने की संभावना है। यह तूफान धीरे-धीरे उत्तर की ओर बढ़ेगा और फिर उत्‍तर उत्तर-पूर्व की ओर वापस आने की संभावना है। भारत मौसम विज्ञान विभाग के राष्ट्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र/ चक्रवात चेतावनी प्रभाग के अनुसार बाद में यह उत्तर पश्चिम बंगाल की खाड़ी में तेजी से आगे बढ़ेगा और दीघा (पश्चिम बंगाल) एवं हटिया द्वीप समूह (बांग्लादेश) के बीच पश्चिम बंगाल बांग्लादेश के तट को 20 मई 2020 को दोपहर/ शाम को बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान के रूप में पार करेगा।

उधर दक्षिण पूर्वी बंगाल की खाड़ी में उठे चक्रवाती तूफान अम्फान के कारण उत्पन्न स्थिति की की समीक्षा के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज शाम उच्च स्तरीय बैठक करेंगे। बैठक में गृह मंत्रालय और राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अधिकारी उपस्थित रहेंगे।

AMPHAN very likely to intensify further into an Extremely Severe Cyclonic Stormमौसम अपडेट

♦ बंगाल की खाड़ी, निकोबार द्वीप समूह और अंडमान सागर के कुछ हिस्सों में दक्षिण- पश्चिम मॉनसून विकसित हुआ है।

♦ मॉनसून की उत्तरी सीमा (एनएलएम)अक्षांश 5° उत्‍तर/ देशांतर 85° पूर्व,अक्षांश 8° उत्‍तर/ देशांतर 90° पूर्व, कार निकोबार, अक्षांश 11° उत्‍तर/ देशांतर 95° पूर्वसे होकर गुजरती है।

♦ दक्षिण बंगाल की खाड़ी के कुछ अन्‍य हिस्सों, अंडमान सागर एवं अंडमान द्वीप समूह के शेष हिस्सों और पूर्वी मध्यबंगाल की खाड़ी के कुछ हिस्सों में अगले 48 घंटों के दौरानदक्षिण-पश्चिम मॉनसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल हैं।

♦ पश्चिमी विझोभ औसत समुद्र तल से 5.8 किमी ऊपरमध्य क्षोभ मंडल में गर्तिका के रूप में केंद्रित है जो अबदेशांतर 69° पूर्व से होकर अक्षांश 28° उत्‍तर की ओरचल रहा है।

♦ पूर्वी पाकिस्तान और उससे सटे पश्चिम राजस्थान के क्षेत्र में औसत समुद्र तल से 0.9 किमी ऊपर चक्रवात की स्थिति बन रही है।

♦ पूर्वी बांग्लादेश और मेघालय के आसपास के क्षेत्र में समुद्र तल से 0.9 किमी ऊपर चक्रवाती हवा मौजूद है।

♦ उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल से पूर्वी बांग्लादेश और मेघालय के आसपास औसत समुद्र तल से लगभग 0.9 किमी ऊपर चक्रवात की स्थिति बन रही है।

♦ केरल तट से दक्षिण-पूर्व अरब सागर के बीच समुद्र तल से 3.6 किमी और 4.5 किमी ऊपर चक्रवात की स्थिति बन रही है।

---PTC NEWS---

adv-img
adv-img