भूखों की भूख मिटा रही बाबा फ़रीद की रसोई

By Arvind Kumar - April 15, 2020 12:04 pm

रेवाड़ी। कोरोना वायरस महामारी से लोगों को निज़ात दिलाने के लिए पीएम मोदी द्वारा देशभर में लॉकडाउन लगाया गया है। ऐसे में प्रवासी मजदूरों सहित गरीब लोगों के सामने रोटी का संकट गहराने लगा था। इस संकट की घड़ी में कुछ सामाजिक संस्थाओं ने गरीबों को खाना खिलाने का जिम्मा उठाया हुआ है। नगर की भीम बस्ती स्थित बाबा फ़कीर की कुटिया में लॉकडाउन लगने की सुबह से ही जरूरतमंदों के लिए खाना बनाने का कार्य शुरू किया गया। खाना बनाने की शुरुआत 500 लोगों को खाना खिलाने से शुरू की गई थी। लोगों की डिमांड बढ़ती गई और खाने की मात्रा भी बढ़ती गई। गरीबों तक खाना पहुंचाने के बीच में पुलिस का दखल होते देख 27 मार्च को एसडीएम कर्यालय से इसकी लिखित इजाज़त ली गई।

 Baba Farid's kitchen is making food of 8 thousand people dailyअब हर रोज खाना तैयार कर गरीबों तक पहुंचाने का काम बाबा फ़कीर की टीम अपने निजी वाहनों से करने लगे। जैसे-जैसे वक्त बढ़ता गया वैसे-वैस खाने के पैकेटों की संख्या भी बढ़ने लगी। अब हर रोज 8 हजार लोगों के लिए खाना तैयार कर उन तक पहुंचाया जा रहा है। बाबा फ़कीर की कुटिया में प्रवासी मजदूरों की डिमांड पर सुबह दाल-चावल व शाम के खाने में सब्जी-पूड़ी बनाई जा रही है। इतना ही नहीं सुबह व दोपहर की चाय भी बिस्किट के साथ दी जा रही है। इतना ही नहीं बल्कि बच्चों के लिए दोनों समय दूध व बुजुर्गों के लिए फ़ल बांटने का काम भी यह संस्था लगातार कर रही है।

बता दें कि हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खटटर द्वारा कुछ दिन पहले वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग द्वारा हर जिले से एक सामाजिक संस्था संचालकों से जिलों के हालातों पर बात की गई थी जिसमें रेवाड़ी से बाबा फ़रीद कुटिया संचालक को कॉन्फ्रेंस में सीएम से रूबरू होने का अवसर भी मिला था।

---PTC NEWS---

adv-img
adv-img