राजनीति

राजस्थान में फोन टैपिंग का मामला गरमाया, बीजेपी ने CBI जांच की मांग की

By Arvind Kumar -- July 18, 2020 1:07 pm -- Updated:Feb 15, 2021

नई दिल्ली। राजस्थान में सियासी उठापटक के बीच नेताओं के फोन टैप किए जाने के प्रकरण की भाजपा ने सीबीआई से जांच कराने की मांग की है। बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने प्रेस कॉंफ्रेंस कर कहा कि क्या एसओपी फॉलो हुआ, फोन टेपिंग इत्यादि किया गया? क्या सभी राजनीतिक पार्टी के सभी लोगों के साथ इस प्रकार का व्यवहार किया जा रहा है? इसको लेकर CBI द्वारा तत्कालीन जांच हो।

संबित पात्रा ने कहा कि राजस्थान में कांग्रेस का राजनीतिक ड्रामा हम देख रहे हैं। ये षड़यंत्र, झूठ फरेब और कानून को ताक पर रखकर कैसे काम किया जाता है, उसका मिश्रण है। वहां जो राजनीतिक नाटक खेला जा रहा है, वो यही मिश्रण है।

BJP demands CBI probe in phone tapping matter

उन्होंने कहा कि राजस्थान की सरकार 2018 में बनी, अशोक गहलोत मुख्यमंत्री बनें, उसके बाद एक कोल्ड वॉर की स्थिति कांग्रेस पार्टी की सरकार में बनी रही। कल अशोक गहलोत जी ने स्वयं मीडिया के सामने आकर कहा है कि 18 महीने से मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री के बीच में वार्तालाप नहीं हो रही थी। उन्होंने कहा, “कांग्रेस का नेतृत्व भाजपा पर आरोप लगा रहे हैं लेकिन पाप उन्हीं के घर में हैं, दाग उन्हीं के घर में हैं और साजिश भी उन्हीं के घर में रची जा रही है।”

भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि कांग्रेस का फोन टैप कराने एवं बगिंग कराने का इतिहास रहा है। देश में फोन टैपिंग कराने का एक मानक प्रोटोकॉल है। सरकार ने 2019 में संसद में एक प्रश्न के उत्तर में उसे सार्वजनिक किया था। देश में केवल दस एजेंसियों को देशहित में फोन टैपिंग करने का अधिकार है। उन्होंने कहा कि भाजपा इस पूरे प्रकरण का सीबीआई द्वारा तुरंत जांच कराने की मांग करती है।

---PTC NEWS---