अपराध/हादसा

पुलिस में झूठी शिकायतें करने वाले लोगों के खिलाफ मामले दर्ज

By Arvind Kumar -- February 03, 2020 4:38 pm -- Updated:February 03, 2020 4:39 pm

हांसी। (संदीप सैणी) पुलिस में झूठी शिकायतें देने वालों को सबक सीखाने के लिए हांसी जिला पुलिस ने बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है। ऐसे मामलों में शिकायतकर्ताओं के खिलाफ कार्रवाई करते हुए 9 लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 182 के तहत कलंदरा कोर्ट में पेश किया गया है। झूठी शिकायतें देने वालों में सबसे अधिक महिलाएं हैं। दुष्कर्म, छेड़छाड़ व मारपीट की झूठी शिकायतें देने वाली 4 महिलाओं के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

हांसी के डीएसपी राजबीर सैनी ने बताया कि एसपी के निर्देशों पर विभिन्न थानों द्वारा झूठी शिकायतों पर कार्रवाई की गई है। सिटी थाने, सदर व नारनौंद थाना में तीन, बास थाना में 2 व महिला थाने में सर्वाधिक 4 महिलाओं के खिलाफ कलंदरा दर्ज किया गया है। सिटी थाने में लक्ष्मी नामक महिला ने कुछ व्यक्तियों ने उसका रास्ता रोका व मारपीट की लेकिन यह आरोप झूठे निकले। नारनौंद थाने में मनीष के चार व्यक्तियों पर लगाए गए कार छीनने के आरोपों में भी गलत मिले।

Cases registered against those who made false complaints in police पुलिस में झूठी शिकायतें करने वाले 9 लोगों के खिलाफ मामले दर्ज

सदर थाना में धर्मपाल ने उसके परिवार के साथ गाली-गलौच करने के आरोप भी जांच में झूठे मिले हैं। बास थाने में धर्मबीर ने सगे भाई पर अपनी ही मां को लालच में आकर मारने का आरोप लगाया था लेकिन यह मामला भी पुलिस जांच में झूठा पाया गया है। अब पुलिस ने उपरोक्त सभी मामलों में शिकायतकर्ताओं पर ही कानून का चाबुक चलाते हुए मामला दर्ज कर लिया है। झूठी शिकायत करने के मामले में आरोपित को अधिकतम छह महीने की सजा व जुर्माना हो सकता है।

छेड़छाड़, दुष्कर्म व मारपीट की झूठी शिकायत देना पड़ा भारी
महिला थाने में एक महिला ने शिकायत दे की एक व्यक्ति ने नौकरी का झांसा देकर उसके साथ विवाह रचाया व फिर दुष्कर्म किया। लेकिन पुलिस जांच में महिला के आरोपों की हवा निकल गई। एक अन्य महिला ने आरोप लगाए कि चचेरे भाई ने उसके साथ जबरदस्ती की व मारपीट भी की। यह आरोप भी पुलिस जांच में झूठे पाए गए। इसी तरह एक महिला ने आरोप लगाए थे कि एक नामालूम बाइक सवार ने उसके साथ छेड़छाड़ की थी महिला ने एक व्यक्ति पर घर में घुसकर दुष्कर्म करने व जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया था। दोनों महिलाओं के आरोप दौरान ए तफ्तीश में गलत पाए गए हैं। अब चारों महिलाओं को अदालत में पेश होकर अपना पक्ष रखना होगा।

यह भी पढ़ें: एक लाख की जाली करेंसी सहित दो लोग गिरफ्तार

---PTC NEWS---




  • Share