तो क्या बनेगी किसानों की बात? ‘सरकार MSP की गारंटी लिखकर देने के लिए तैयार’

MSP assurance in writing
तो क्या बनेगी किसानों की बात? 'सरकार MSP की गारंटी लिखकर देने के लिए तैयार'

नई दिल्ली। तीन कृषि कानूनों को लेकर किसानों का प्रदर्शन लगातार जारी है। आज प्रदर्शन को आठवां दिन है हजारों किसान सड़क पर डटे हुए हैं। इस बीच किसानों और सरकार में बातचीत का दौर भी चल रहा है। किसान नेताओं और सरकार के बीच दिल्ली के विज्ञान भवन में बातचीत चल रही है।

MSP assurance in writing
तो क्या बनेगी किसानों की बात? ‘सरकार MSP की गारंटी लिखकर देने के लिए तैयार’

इस बातचीत से पहले केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग राज्य मंत्री सोम प्रकाश ने बड़ा बयान दिया है। समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में उन्होंने बताया कि न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) को लेकर सरकार बहुत स्पष्ट है, MSP था है और रहेगा। इसमें किसी को कोई शंका नहीं होनी चाहिए। सरकार प्रतिबद्ध है, लिखकर देने के लिए तैयार है

MSP assurance in writing
तो क्या बनेगी किसानों की बात? ‘सरकार MSP की गारंटी लिखकर देने के लिए तैयार’

यह भी पढ़ें- हरियाणा में लगे स्मार्ट मीटर, अब मोबाइल की तरह करें बिजली का रिचार्ज

यह भी पढ़ें- सुरजेवाला बोले- मोदी सरकार राजनैतिक तौर से बेईमान, किसान की पीठ में छुरा घोंप रही!

वहीं उन्होंने कहा कि एक-एक बिन्दु पर चर्चा होगी। हम बात करने के लिए हमेशा तैयार हैं, चर्चा करने के बाद ही कोई नतीजा निकलेगा। हम खुले मन से बात करेंगे।

MSP assurance in writing
तो क्या बनेगी किसानों की बात? ‘सरकार MSP की गारंटी लिखकर देने के लिए तैयार’

सरकार किसानों को एमएसपी को लेकर लिखित में देने के लिए तैयार होती दिख रही है, लेकिन क्या किसान इस आश्वसन के बाद आंदोलन खत्म कर देंगे इसे लेकर अभी कुछ नहीं कहा जा सकता है। क्योंकि एमएसपी के साथ ही कई अन्य मांगें भी किसानों ने सरकार के समक्ष रखी है।