फल समझकर खाया ‘पत्ता’, पहुंच गए अस्पताल

Jhajjar
फल समझकर खाया 'पत्ता', पहुंच गए अस्पताल

झज्जर। (प्रदीप धनखड़) आठ बच्चों की सांसें उस समय जिंदगी और मौत के बीच झुजती नजर आई, जब इन बच्चों ने एक पेड़ से लगे पत्तों को फल समझकर खा लिया। बच्चों ने जैसे ही पेड़ पर लगे पत्तों को खाया उसी समय उनकी हालत खराब हो गई। सभी बच्चे मौके पर ही बेहोश हो गए। बेहोशी की हालत में परिजनों ने बच्चों को आनन-फानन में पास के सीएसची जमालपुर में दाखिल करवाया, जहां उनकी हालत गंभीर देखकर उन्हें नागरीक अस्पताल झज्जर में रेफर किया गया।

जानकारी अनुसार लीलोहड गांव के एक ईंट भट्ठे पर आठ बच्चों ने घर के पास ही लगे एक पेड़ के पत्तों को फल समझकर खा लिया, जिनके खाने से बच्चों को चक्कर आने लगा और वो मौके पर ही बेहोश हो गए।

डॉक्टर विकास ने बताया कि जब उन्हें झज्जर सामान्य अस्पताल लाया गया, आठों बच्चों की हालत गंभीर थी। शुरूआती चिक्तिसा जांच में पाया गया कि बच्चों ने कोई जहरीले पेड़ का पत्ता खाया है। बच्चों की उम्र पांच से आठ साल तक है। फिलहाल बच्चों का उपचार किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें : दोस्तों के साथ विदेश घूमने गए युवक की मौत, घर पहुंचा शव तो बिलख पड़े परिजन