Video: मलहाका गांव में भिड़े दो गुट, आधा दर्जन से अधिक घायल

NUH
मलहाका गांव में भिड़े दो गुट, आधा दर्जन से अधिक घायल

फिरोजपुर। (ऐ के बघेल) झिरका विधानसभा के मलहाका गांव में सोमवार को मतदान के दौरान दो गुट आपस में भिड़ गए । भाजपा उम्मीदवार नसीम अहमद के समर्थक एवं कांग्रेसी उम्मीदवार मामन खान के समर्थक आपस में उलझ गए । झगड़े के दौरान न केवल लाठी , डंडा चले बल्कि जमकर पथराव हुआ। कुछ लोगों ने तो झगड़े के दौरान फायरिंग होने की बात भी कही। हालात को देखते हुए नूह एसपी संगीता कालिया कुछ देर बाद दल – बल के साथ मल्हाका गांव के पोलिंग बूथ 128 पर पहुंची। सुरक्षा व्यवस्था झगड़े में मामन खान के समर्थक शब्बीर , रसमीना ,पप्पू , मुस्ती जाहिदा , बिलाल , साहबदीन , शेरू इत्यादि को चोटें आई हैं साथ ही भाजपा समर्थक के भी घायल होने की खबर है।

पुलिस ने घायलों को इलाज के लिए पुनहाना सीएचसी भिजवा दिया है , कुछ घायलों की स्थिति ज्यादा खराब होने के चलते उनको अल आफिया अस्पताल मांडीखेड़ा रेफर किया गया है । एसपी संगीता कालिया ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि नूह जिले में जहां भी छिटपुट घटनाएं हुई हैं। वहां पर पुलिस ने सख्ती बरतते हुए एफ आई आर दर्ज कर ली है व शांतिपूर्ण मतदान के लिए न केवल खुद बूथों पर जायजा ले रही हैं , बल्कि जिले के कई डीएसपी अलग-अलग इलाकों में बूथों पर लगातार निगरानी रखे हुए हैं ।

एसपी ने कहा छिटपुट झड़पों के बाद तनाव नहीं है , स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है। 10 अतिरिक्त कंपनियां सुरक्षा में लगाई गई हैं, जहां पर छिटपुट घटनाओं की शिकायत मिल रही है या तो खुद वो वहां पहुंच रही हैं या फिर पुलिस के अन्य अधिकारी व कर्मचारी वहां जाकर हालात को सामान्य कर रहे हैं । कुल मिलाकर नूह जिले के तीनों ही विधानसभा क्षेत्रों में लगातार बूथों पर कार्यकर्ताओं के उलझने और घायल होने की खबरें मिल रही हैं । दोपहर तक नूंह विधानसभा के सलम्बा , फिरोजपुर झिरका विधानसभा के डूंगेजा तथा मल्हाका, पुन्हाना विधानसभा के पापड़ा , सिंगार , लहरवाड़ी इत्यादि गांव में कार्यकर्ताओं में झगड़े की खबरें मिली हैं । गनीमत यह रही झगड़ों में अभी तक किसी की जान जाने की खबर नहीं मिली है। दूसरी तरफ अगर हम बात करें तो कई गांवों में ईवीएम की खराबी की वजह से कुछ घंटे मतदान बाधित हुआ है , लेकिन इतनी झड़प होने के बावजूद भी लोकतंत्र के पर्व में मतदाता उत्साह के साथ मतदान करने में लगे हुए हैं । खास बात तो यह है कि मल्हाका गांव में खूनी संघर्ष के बाद भी मतदाताओं ने वोट डालने का सिलसिला जारी रखा । लूहिंगाकलां गांव में बीएसएफ की तैनाती से शांतिपूर्ण मतदान चलता हुआ इस बार दिखाई दिया तो पापड़ा गांव में कहासुनी के बाद बूथ सुनसान रहा।

यह भी पड़ें:दिन चढ़ने के साथ बढ़ रहा वोट प्रतिशत, 2 बजे तक 40 फीसद से ज्यादा मतदान

—PTCNews—