राजनीति

सिद्धू मूसेवाला के घर पहुंचे सीएम भगवंत मान, लोगों के विरोध का करना पड़ा सामना

By Vinod Kumar -- June 03, 2022 11:37 am -- Updated:June 03, 2022 11:44 am

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान आज सिद्धू मूसेवाला के परिजनों से मिलने के लिए उनके घर पर पहुंचे हैं। यहां सीएम भगवंत मान को लोगों के भारी विरोध का सामना करना पड़ा। सीएम मान को 8 बजे मूसा गांव पहुंचना था, लेकिन लोगों के विरोध के चलते सीएम 2 घंटे देरी से पहुंचे।

भगवंत मान के मूसेवाला गांव में पहुंचने को लेकर तनाव की स्थिति बनी हुई है। गांव में भगवंत मान को लोगों के गुस्से का सामना करना पड़ा। लोगों ने भगवंत मान का जोरदार विरोध करना पड़ा। मूसा गांव के लोग सिद्धू मूसेवाला की सिक्योरिटी में कटौती को लेकर आम आदमी पार्टी की सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। लोगों ने सीएम के खिलाफ नारेबाजी की। गांव वालों का आरोप है कि सिद्धू मूसेवाला की सिक्योरिटी में कटौती की गई है। इसलिए मुस्सेवाला की हत्या के लिए पंजाब सरकार ही जिम्मेदार है।

सीएम भगवंत मान के पहुंचने से पहले गांव में सुरक्षा के बेहद कड़े प्रबंध किए गए हैं। गांव वालों ने आरोप लगाया कि सीएम के दौरे की वजह लोगों और रिश्तेदारों को भी गांव में घुसने नहीं मिल रहा है।

सीएम के दौरे से पहले वहां पहुंचे स्थानीय विधायक गुरप्रीत सिंह बनावली को वापस लौटना पड़ा। उन्हें लोगों के भारी विरोध का सामना करना पड़ा। लोगों ने उनका रास्ता रोक लिया और आम आदमी पार्टी के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। लोगों ने उनका जोरदार विरोध किया। इस दौरान विधायक लोगों से माफी मांगते हुए नजर आए। विधायक ने कहा कि अगर प्रशासन से कोई गलती हुई है तो वो माफी मांगते है। गुरप्रीत सरदुलगढ़ में मानसा विधानसभा सीट से आम आदमी पार्टी के विधायक हैं।

वहीं, सिद्धू मूसेवाला का परिवार बेटे की हत्या की जांच केंद्रीय जांच एजेंसी से करवाने की मांग कर रहे हैं। परिवार का आरोप है कि राजनीतिक के तहत सिद्धू मूसेवाला की सिक्योरिटी कम की गई थी। बता दें कि भगवंत मान की सरकार ने सिद्धू मूसेवाला की सिक्योरिटी में कटौती की थी। उनके पास सिर्फ दो गनमैन ही बचे थे। पहले उनके साथ 10 गनमैन की सिक्योरिटी थी। सिक्योरिटी में कटौती के अगले दिन ही उनकी हत्या कर दी गई थी।

  • Share