पहली से लेकर 8वीं कक्षा तक के सभी विद्यार्थी बिना परीक्षा दिए ही होंगे प्रमोट

CM Manohar Lal Khattar big announcement for students
पहली से लेकर 8वीं कक्षा तक के सभी विद्यार्थी बिना परीक्षा दिए ही होंगे प्रमोट

चंडीगढ़। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने घोषणा की कि राज्य में पहली कक्षा से लेकर 8वीं कक्षा तक के सभी विद्यार्थियों को बिना परीक्षा के वर्ष 2020-21 के शैक्षणिक सत्र के लिए अगली कक्षा में प्रमोट कर दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने प्रदेश को लोगों को ऑनलाइन-लाइव संबोधित करते हुए बताया कि स्कूल खुलते ही उक्त कक्षाओं के विद्यार्थी अगली कक्षा में दाखिला ले सकेंगे। उन्होंने बताया कि 9वीं कक्षा की परीक्षाएं हो चुकी हैं उनका परीक्षा परिणाम अगले सप्ताह घोषित कर दिया जाएगा और स्कूल खुलने के बाद उत्तीर्ण हुए विद्यार्थी दसवीं कक्षा में प्रवेश ले सकेंगे। उन्होंने बताया कि दसवीं कक्षा की परीक्षाओं में विज्ञान विषय की परीक्षा शेष रहती है,बाकि विषयों की परीक्षा संपन्न हो चुकी है। ऐसे में सरकार ने निर्णय लिया है कि दसवीं कक्षा के विद्यार्थियों द्वारा अन्य विषयों में प्राप्त अंकों के औसत के आधार पर 11वीं कक्षा में दाखिला दे दिया जाएगा। उन्होंने आगे बताया कि विज्ञान विषय की परीक्षा परिस्थितियां सामान्य होने पर आयोजित की जाएगी।

CM Manohar Lal Khattar big announcement for students
पहली से लेकर 8वीं कक्षा तक के सभी विद्यार्थी बिना परीक्षा दिए ही होंगे प्रमोट

मुख्यमंत्री ने बताया कि 11वीं कक्षा के विद्यार्थियों की मात्र गणित विषय की परीक्षा नहीं हो पाई है, इन विद्यार्थियों को 12वीं कक्षा में प्रवेश तो दे दिया जाएगा परंतु उनकी गणित की परीक्षा महामारी से निपटने के बाद परिस्थितियां सामान्य होने पर संचालित की जाएगी। उन्होंने आगे जानकारी दी कि 12वीं कक्षा के परीक्षा परिणाम बारे एनसीईआरटी के निर्णय के बाद ही हरियाणा सरकार द्वारा आगामी फैसला लिया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने लोगों से आह्वान किया कि अगले सप्ताह आने वाले भगवान महावीर जयंती, चौधरी देवीलाल की पुण्यतिथि, हनुमान जयंती,गुड-फ्राइडे, इस्टर-संडे, बैसाखी, बाबा भीमराव अंबेडकर जयंती जैसे कार्यक्रमों व उत्सवों के दौरान एकत्रित न हों और अपने घर रहकर ही मनाएं। उन्होंने लोगों को कोरोना की महामारी से निपटने के लिए मनोबल एवं एकता की ताकत का उदाहरण देते हुए कहा कि इतिहास में कई बार ऐसे अवसर आए हैं जब हमारे समाज के महापुरूषों के आहवान पर कई महान कार्य सिद्घ हुए हैं तथा आपदाओं से भी पार पाया गया है। उन्होंने बताया कि महात्मा गांधी के नेतृत्व में नमक-कानून तोडऩे, विदेशी कपड़ों की होली जलाने,प्रभात-फेरी निकालने तथा देश में आए अन्न-संकट पर भूतपूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय लाल बहादुर शास्त्री के आहवान पर एक-वक्त का भोजन न करने का देश के लोगों ने अनुसरण किया तथा एकता का परिचय देकर देश को अन्न संकट से उबारने में मदद की।

—PTC NEWS—