सैलजा ने लॉकडाउन में अवैध शराब की बिक्री पर सरकार से पूछा सवाल, मिला ये जवाब

सैलजा ने लॉकडाउन में अवैध शराब की बिक्री पर सरकार से पूछा सवाल, मिला ये जवाब

चंडीगढ़। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने प्रदेश सरकार पर हमला बोला और कहा कि लॉक डाउन में एक बार फिर अवैध शराब बिक्री गठबंधन सरकार की ढुल मुल नीतियों का परिणाम है। उन्होंने ट्वीट कर पूछा कि पहले हुए घोटाले की लीपापोती में लगी सरकार ने कुछ सबक सीखा या कुछ और माजरा है?
इसका जवाब देते हुए मुख्यमंत्री मनोहरलाल के प्रिंसिपल मीडिया एडवाइजर विनोद मेहता ने भी ट्वीट किया और कहा कि अवैध शराब की बिक्री पर कड़ा नियंत्रण सरकार की इच्छाशक्ति से ही लगा है और ऑक्सीजन जमाखोरी से समाज सेवा का ढोंग करने वाले कांग्रेसी और कथित गांधीवादियों पर शिकंजा भी यही सरकार कस रही है। उन्होंने कहा कि हम ना ढुलमुल अवैध शराब की बिक्री को लेकर है और ना ही ऑक्सीजन जमाखोरी को लेकर है।

यह भी पढ़ें- आजाद हिंद फौज के वीर सिपाही ललती राम का निधन

यह भी पढ़ें- हरियाणा के डीएसपी का कोरोना से निधन, डीजीपी ने जताया शोक


बता दें कि प्रदेश सरकार द्वारा कोरोना की चेन रोकने के लिए लगाई गई बंदिशों के बीच शराब तस्करी के कई मामले सामने आए हैं। हालांकि शराब की तस्करी को देखते हुए पुलिस भी सक्रिय है। पुलिस ने शहर में जगह-जगह नाकेबंदी कर रखी है। जिसका नतीजा है कि शराब तस्करों को दबोचा जा रहा है।

JJP leader alleges opposition leaders are labeling baseless allegationsफतेहाबाद पुलिस ने लॉक डाउन के दौरान शराब तस्करी के बड़े गोरखधंधे का भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने तीन गाड़ियों में तस्करी करके ले जाए जा रही 340 पेटी शराब बरामद की है। दरअसल पुलिस ने यह खेप फतेहाबाद के गांव सनियाना के पास नाकेबंदी के दौरान पकड़ी है। जानकारी के मुताबिक 340 पेटियों में 4080 बोतल देसी शराब रखी गई थी।