पेगासस जासूसी मामले में कांग्रेस का प्रदर्शन, पुलिस ने कई नेता हिरासत में लिए

By Arvind Kumar - July 22, 2021 2:07 pm

चंडीगढ़। पेगासस जासूसी मामले को लेकर हरियाणा कांग्रेस ने चंडीगढ़ में जोरदार प्रदर्शन किया। इस प्रदर्शन में प्रदेश अध्यक्ष कुमारी सैलजा, प्रदेश प्रभारी विवेक बंसल, पूर्व उप मुख्यमंत्री चंद्रमोहन और वरिष्ठ कांग्रेसी नेता कुलदीप बिश्नोई, अशोक अरोड़ा सहित कई विधायक शामिल हुए। नेताओं के अलावा सैकड़ों की संख्या में कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने भी केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया और जमकर नारेबाजी की। कांग्रेसी कार्यकर्ता राजभवन रोष मार्च निकालना चाहते थे लेकिन पुलिस ने उन्हें रोक लिया।


प्रदर्शन में शामिल कांग्रेसी नेताओं ने कहा कि सरकार अपने देश के नागरिकों और नेताओं की जासूसी करवा रही है जो बेहद निंदनीय है। जो हथियार दुश्मन देशों के खिलाफ इस्तेमाल किए जाने चाहिए, वह हथियार सरकार अपने लोगों के खिलाफ इस्तेमाल कर रही हैं।

यह भी पढ़ें- 15 अगस्त से पहले अलर्ट पर दिल्ली पुलिस

यह भी पढ़ें- सीएम खट्टर बोले- कांग्रेस का खुद का इतिहास जासूसी का रहा है

कांग्रेस नेताओं ने कहा कि सरकार इस बात से पीछे नहीं हट सकती कि यह काम उनकी ओर से नहीं किया गया है क्योंकि जो कंपनी इस सॉफ्टवेयर को बनाती है उसका साफ तौर पर कहना है कि वे इस सॉफ्टवेयर को सिर्फ देशों की सरकारों को ही बेचते हैं। वैसे किसी भी निजी कंपनी को नहीं बेचते। जिसे यह सिद्ध हो जाता है कि यह जासूसी केंद्र सरकार ही करवा रही थी। सरकार का यह कदम निजता के अधिकार पर तीखा प्रहार है। सरकार कांग्रेस के ऊपर आरोप लगाकर अपनी गलती नहीं छुपा सकती। उन्होंने कहा कि इस मामले की जांच सुप्रीम कोर्ट की देख रेख में होनी चाहिए।

बता दें कि चंडीगढ़ में धारा 144 लगाई गई है। जिसके तहत चंडीगढ़ में कोई भी धरना प्रदर्शन नही किया जा सकता, पुलिस ने कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को प्रदेश कांग्रेस भवन के पास ही बैरिकेडिंग लगाकर रोक लिया और कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेताओं को हिरासत में भी ले लिया। जिनमें प्रदेश अध्यक्ष कुमारी सैलजा, प्रदेश प्रभारी विवेक बंसल, विधायक दल के उप नेता आफताब अहमद सहित पूर्व उपमुख्यमंत्री चंद्र मोहन सहित अन्य कई विधायक शामिल हैं।

adv-img
adv-img