राजनीति

सोनिया गांधी से ईडी की पूछताछ के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन, केंद्र पर लगाए एजेंसियों के दुरुपयोग के आरोप

By Vinod Kumar -- July 21, 2022 2:49 pm -- Updated:July 21, 2022 3:34 pm

चंडीगढ़: कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को ईडी ने आज पूछताछ के लिए बुलाया है। इसके विरोध में हरियाणा कांग्रेस ने गुरुवार को चंडीगढ़ में सेक्टर 35 में प्रदर्शन किया। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सेक्टर 35 में स्थित कांग्रेस भवन से सेक्टर 18 में स्थित ईडी कार्यालय की ओर कूच किया।

भूपेंद्र सिंह हुड्डा, प्रदेश अध्यक्ष उदयभान सिंह समेत कई वरिष्ठ नेता और कांग्रेस कार्यकर्ता प्रदर्शन में पहुंचे। बारिश के बाद भी बड़ी संख्या में कार्यकर्ता कांग्रेस भवन में इक्ट्ठा हुए। कांग्रेस भवन से ईडी कार्यालय की ओर जाते हुए कांग्रेस कार्यकर्ताओं को पुलिस ने बैरिकेड लगाकर रोक लिया।

पुलिस की ओर से रोके जाने के विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार के खिलाफ जोरदार नारेबाजी शुरू कर दी। इसी बीच कांग्रेस कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच कहासुनी और हल्की धक्का-मुक्की हुई। इसके बाद पुलिस कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को हिरासत में लेकर सेक्टर 39 के पुलिस स्टेशन ले आई।

भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि बीजेपी जांच एजेंसियों के दुरुपयोग कर रही है। केंद्र की तानाशाही के खिलाफ कांग्रेस आज रोष मार्च निकाल रही है। एंजेसियों को राजनीतिक हथियार की तरह इस्तेमाल किया जा रहा है। ऐसा लगता है कि एजेंसियां सरकार की बजाए पार्टी के अधीन काम कर रही हैं। इनकी कोशिश है कि सरकार के विरुद्ध उठने वाली हर आवाज को दबाया जाए। इससे संस्थाओं के प्रति जनता का विश्वास कम होगा, जो लोकतंत्र के लिए सही नहीं है। क्योंकि न्यायपालिका, कार्यपालिका और विधानपालिका जैसी संस्थाओं के प्रति विश्वसनीयता ही लोकतंत्र का आधार है। हुड्डा ने कहा कि संस्थाओं को सरकार के लिए हाथों में खेलने की बजाए स्वतंत्र व निष्पक्ष तरीके से काम करना चाहिए। लेकिन राजनीतिक द्वेष के चलते कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी और राहुल गांधी जैसे बड़े नेताओं को परेशान किया जा रहा है। इसके चलते पूरे देश में रोष है, जिसका प्रदर्शन कांग्रेसजनों से सड़कों पर उतरकर किया है। 

मीडिया से बातचीत में चौधरी उदयभान ने भी जांच एजेंसियों के दुरुपयोग को लेकर भाजपा सरकार की कड़े शब्दों में आलोचना की। उन्होंने कहा कि बेरोजगारी और महंगाई जैसे मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए कांग्रेस नेता सोनिया गांध व राहुल गांधी को परेशान किया जा रहा है। लेकिन सच्चाई यह है कि दोनों के खिलाफ ईडी का कोई मामला ही नहीं बनता है। बीजेपी सरकार के दौरान 5 हजार से ज्यादा ईडी के मुकदमे दर्ज किए गए लेकिन उनमें दोष सिद्धी की दर एक प्रतिशत भी नहीं है। स्पष्ट है कि यह सिर्फ विरोधियों को बदनाम करने का हथकंडा है।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि सरकार के खिलाफ उठने वाली विरोध की आवाजों को दबाने के लिए केंद्रीय संस्थाओं का दुरुपयोग हो रहा है। संस्थाओं की विश्वसनीयता के साथ बीजेपी खिलवाड़ कर रही है। विपक्ष के जिन नेताओं से बीजेपी को चुनौती मिलती है उन्हीं के खिलाफ बीजेपी कार्रवाई करती है। कांग्रेस ना अंग्रेजों की दमनकारी नीतियों के सामने झुकी, ना भाजपा की तानाशाही के सामने झुकेगी।

  • Share