प्रमुख खबरें

कोरोना वायरस: रिपोर्ट नेगेटिव आने पर भी इन लक्षणों को ना करें अनदेखा

By Arvind Kumar -- April 26, 2021 5:00 pm -- Updated:April 26, 2021 5:00 pm

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। इन मामलों का समय पर पता लगाने के लिए टेस्टिंग की जा रही है लेकिन कई लोगों की कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आ रही है हालांकि उनमें कोरोना के कई लक्षण हैं। ऐसे में रिपोर्ट नेगेटिव आने पर भी लक्षणों को अनदेखा नहीं करना चाहिए और कई तरह की सावधानियां बरतनी चाहिए।

कोरोना वायरस: रिपोर्ट नेगेटिव आने पर भी इन लक्षणों को ना करें अनदेखा

बता दें कि बुखार और कंपकंपी कोविड-19 के लक्षणों में से हैं। हालांकि यह आम बुखार भी हो सकता है लेकिन अगर यह बुखार दवाई लेने के बाद भी ठीक ना हो तो आपको सावधान होने की जरूरत है और एक बार फिर से डॉक्टरों से मशविरा लेना चाहिए।

इस बीच कोरोना के मामलों का वक्त रहते पता लगाने के लिए सीएसआईआर की सीसीएमबी लैब ने 'ड्राई स्वैब आरटी-पीसीआर' प्रणाली विकसित की है। आरटी-पीसीआर टेस्टिंग की ये तकनीक नॉर्मल आरटी-पीसीआर से करीब 30 से 40 प्रतिशत तक सस्ती है। साथ ही 'ड्राई स्वैब आरटी-पीसीआर' जांच के दौरान रिजल्ट भी काफी तेजी के आते हैं।

Coronavirus : India reports highest-ever surge of 3.46 lakh Covid-19 cases, 2,624 deathsयह भी पढ़ें- ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी के आरोप में कंपनी मैनेजर गिरफ्तार

यह भी पढ़ें- ऑक्सीजन के लिए आत्मनिर्भर बनेंगे अस्पताल


ड्राई स्वैब आरटी-पीसीआर कोविड संक्रमण का पता लगाने के लिए मौजूदा मानक आरटी-पीसीआर का ही एक सरल रूपांतर है। यह सीएसआईआर-सीसीएमबी द्वारा विकसित एक ड्राई स्वैब आरएनए-निष्कर्षण-मुक्त परीक्षण विधि है। डाइग्नोसिस के लिए इस प्रणाली में वायरल ट्रांसपोर्ट मीडियम (वीटीएम) में सैंपल कलेक्ट करने वाला स्टेप और फिर उसके बाद आरएनए आइसोलेट करने वाला स्टेप हटा दिया है।

  • Share