भारत में Covaxin का ट्रायल सफलता की ओर, फिलहाल वैक्सीन का नहीं कोई दुष्प्रभाव

नई दिल्ली। पूरी दुनिया में तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए रूस ने वैक्सीन पंजीकृत कर दी है। भारत में भी कोविड -19 वैक्सीन, तैयार की गई है लेकिन अभी यह परीक्षण के दौर से गुजर रही है। इसे भारत बायोटेक और भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) द्वारा साझेदारी में विकसित किया गया है।

देशभर में Covaxin के परीक्षणों से जो प्रारंभिक परिणाम सामने आए हैं उसमें इस दवा का प्रतिकूल दुष्प्रभाव नहीं देखा गया है। पीजीआई रोहतक में कोरोना वैक्सीन के ह्यूमन ट्रायल का पहला फेज पूरा हो चुका है। पीजीआई के डॉक्टर्स का दावा है कि अब तक पहले फेज में ह्यूमन ट्रायल सफल और सुरक्षित रहा है।

Coronavaccine Trial First Phase | Coronavirus Vaccine India

फिलहाल इसका परीक्षण देशभर में 12 संस्थानों में चल रहा है। पहले चरण में पीजीआई रोहतक सहित कुल 375 वालंटियरों पर टीका का परीक्षण किया जा रहा है।

ऐसे में जल्द ही कोरोना वायरस का टीका आने की उम्मीद बंध गई है। देखना होगा की कब तक वैक्सीन पर ट्रायल पूरे होते हैं और इसका टीका बाजार में उपलब्ध होता है।

—PTC NEWS—