कोरोना वायरस: स्टेज-2 में हरियाणा, अभी तक 13 मरीज हो चुके हैं ठीक

By Arvind Kumar - April 04, 2020 9:04 am

चंडीगढ़। अभी तक हरियाणा कोविड-19 के स्टेज-3 (सामुदायिक प्रसारण) की स्थिति को रोकने में सफल रहा है। वर्तमान में हरियाणा स्टेज-2 में है, जिसमें अब तक 43 मामले राज्य में पोजिटिव पाए गए हैं और इनमें से ज्यादातर मामले ऐसे हैं, जिनका इतिहास यात्रा का है या वे किसी नॉवेल कोरोनो पॉजिटिव मरीज के संपर्क में आए हैं। अब तक, राज्य में कुल 43 रोगियों में से 30 कोविड पॉजिटिव मरीज हैं और 13 मरीजों को अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई है।

हरियाणा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव अरोड़ा ने कहा कि कोविड-19 के प्रकोप की चुनौती से प्रभावी ढंग से निपटने के लिए राज्य सरकार डॉक्टरों, नर्सों, पैरामेडिक्स और अन्य कर्मचारियों सहित स्वास्थ्य विभाग के अग्रिम पंक्ति के कर्मचारियों के मनोबल को बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध है, इसलिए सरकार ने सभी आवश्यक सेवाएं व उपकरण प्रदान किए हैं। उन्होंने कहा कि कोविड-19 से निपटने के लिए ऐसे सभी स्वास्थ्य कर्मियों के लिए पर्याप्त मात्रा में व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) कीट उपलब्ध करवाई जाएंगी।

Coronavirus Haryana in Stage 2, 13 COVID 19 Patient Cured कोरोना वायरस: स्टेज-2 में हरियाणा, अभी तक 13 मरीज हो चुके हैं ठीक

नोवेल कोरोना वायरस की समस्या से प्रभावी रूप से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा उठाए गए विभिन्न कदमों का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि पंचकूला में एक हेल्पलाइन-कम-कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है और इसे सुविधाजनक बनाने के लिए टेली-मेडिसिन सुविधा से भी जोड़ा गया है ताकि जो व्यक्ति लॉकडाउन के दौरान किसी भी प्रकार की चिकित्सा सहायता के लिए व्यक्तिगत रूप से डॉक्टरों के पास नहीं जा सकते, उन्हें सुविधा दी जा सकें। इसके अलावा, पीजीआईएमएस रोहतक और भगत फूल सिंह मेडिकल कॉलेज, खानपुर कलां में दो परीक्षण प्रयोगशालाएं संचालित हैं। इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) द्वारा राज्य के गुरूग्राम की पांच निजी प्रयोगशालाओं को भी कोविड-19 की जांच करने के लिए मंजूरी दे दी गई है और इन परीक्षण प्रयोगशाालाओं द्वारा अगले कुछ दिनों में सैंपल लेना शुरू कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि वर्तमान परिस्थिति में भी राज्य सरकार प्रदेश में स्वास्थ्य के बुनियादी ढांचे में भी सुधार कर रही है और नूंह, हिसार, करनाल, रोहतक और पंचकुला में प्रयोगशाला स्थापित करने का फैसला किया गया है।

---PTC NEWS---

adv-img
adv-img