हरियाणा

कोरोना के बढ़ते मामलों पर बोले केजरीवाल: स्थिति गंभीर...लॉकडाउन लगाने पर दिया ये जवाब

By Vinod Kumar -- January 09, 2022 12:38 pm -- Updated:January 09, 2022 12:39 pm

cm arvind kejriwal press conference: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल कोरोना से ठीक होकर वापस काम पर लौट आए हैं। कोरोना से ठीक होने के बाद दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में केजरीवाल ने दिल्ली में कोरोना बढ़ते कोरोना केस को लेकर स्थिति की जानकारी दी। केजरीवाल ने कहा कि स्थिति गंभीर है, लेकिन घबराना नहीं है।

इस दौरान उन्होंने कहा कि मुझे कोरोना हो गया था। मैं लगभग 7-8 दिन होम आइसोलेशन में रहा। मुझे लगभग 2 दिन बुखार रहा, उसके बाद मैं ठीक हो गया, लेकिन कोरोना नियमों के हिसाब से करीब 7 से 8 दिन होम आइसोलेशन में रहा था।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में सीएम केजरीवाल ने कहा कि कोरोना के मामले तेज़ी से मामले बढ़ रहे हैं यह एक चिंता का विषय है, लेकिन घबराने की जरूरत नहीं है। केजरीवाल ने दिल्ली में लॉकडाउन को लेकर कहा, ''कई लोग पूछ रहे हैं कि लॉकडाउन लगेगा? मैं कहना चाहता हूं कि अगर आप लोग मास्क पहनेंगे तो लॉकडाउन नहीं लगेगा। जब भी घर से निकलेंगे मास्क जरूर लगा कर निकलें। जरूरी ना हो तो घर से ना निकलें। हम लॉकडाउन नहीं लगाना चाहते, हमारी ऐसी कोई मंशा नहीं है। कोशिश है कि कम से कम प्रतिबंध लगाएं''

 

केजरीवाल ने कहा, ''पूरे देश के साथ साथ दिल्ली में भी कोरोना बहुत तेजी से बढ़ रहा है। दिल्ली में रफ्तार बहुत ज्यादा तेज है। कल 20 हजार से ज्यादा केस आए थे आज करीब 22 हजार केस आएंगे। रोजाना बहुत तेजी से केस बढ़ रहे हैं। यह चिंता का विषय जरूर है लेकिन मैंने पहले भी कहा है कि आपको घबराना है। मैं यह बात सारा डेटा देखकर बोल रहा हूं।''

Arvind Kejriwal

 

सीएम ने कहा कि अप्रैल मई में आई पिछली लहर में आई 7 मई को रोजाना इतने ही मामले आ रहे थे। 7 मई को 341 मौत हुई थी, कल 7 मौत हुई हैं। 7 मई को दिल्ली में 20,000 बेड भरे हुए थे, कल जब 20 हजार मामले आए हैं, तो लगभग डेढ़ हजार बेड भरे हुए हैं। तो इस लहर के दौरान मौत भी काफी कम हो रही हैं और लोगों को अस्पताल जाने की भी बहुत कम जरूरत पड़ रही है।

Delhi CM Arvind Kejriwal tests positive for Covid-19

  • Share