किसान नेताओं पर दिल्ली पुलिस ने कसा शिकंजा, जारी किए नोटिस

Notice to Farmer Leaders
किसान नेताओं पर दिल्ली पुलिस ने कसा शिकंजा, जारी किए नोटिस

नई दिल्ली। गणतंत्र दिवस पर किसानों की ट्रैक्टर परेड में हुई हिंसा को लेकर दिल्ली पुलिस ने किसान नेताओं पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। दिल्ली पुलिस ने कई किसान नेताओं को नोटिस जारी किया है।

Notice to Farmer Leaders
किसान नेताओं पर दिल्ली पुलिस ने कसा शिकंजा, जारी किए नोटिस

जानकारी के मुताबिक दिल्ली पुलिस ने ट्रैक्टर रैली को लेकर पुलिस के साथ हुए समझौते को तोड़ने के लिए योगेंद्र यादव, बलदेव सिंह सिरसा, बलबीर एस.राजेवाल समेत कम से कम 20 किसान नेताओं को नोटिस जारी किया है। उन्हें 3 दिनों में जवाब देने के लिए कहा गया है।

यह भी पढ़ें: कैप्टन अमरिंदर सिंह बोले- लाल किले की घटना निंदनीय, इससे मेरा सिर शर्म से झुक गया

Notice to Farmer Leaders
किसान नेताओं पर दिल्ली पुलिस ने कसा शिकंजा, जारी किए नोटिस

यह भी पढ़ें: एक और किसान संगठन ने खत्म किया आंदोलन

बता दें कि दिल्ली पुलिस ने किसान नेताओं पर समझौता तोड़ने का आरोप पिछले कल ही लगा दिया था। आरोप है किसान नेताओं ने समझौते के तहत कोई काम नहीं किया जिस वजह से किसानों की ट्रैक्टर परेड में हिंसा भड़की।

Notice to Farmer Leaders
किसान नेताओं पर दिल्ली पुलिस ने कसा शिकंजा, जारी किए नोटिस

दिल्ली पुलिस ने हिंसा को लेकर 22 से ज्यादा मामले दर्ज किए हैं। दिल्ली पुलिस की एफआईआर में किसान नेता दर्शन पाल, राजिंदर सिंह, बलबीर सिंह राजेवाल, बूटा सिंह बुर्जगिल और जोगिंदर सिंह उग्रा के नाम हैं। FIR में BKU के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत का नाम भी शामिल है। इन पर किसान ट्रैक्टर रैली के संबंध में एनओसी के उल्लंघन के चलते मामला दर्ज किया गया है।