फाइनेंसरों से तंग आकर डॉक्टर ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट छोड़ा

By Arvind Kumar - August 30, 2020 2:08 pm

यमुनानगर। (अशोक यादव) जगाधरी स्थित में एक व्यक्ति ने फाइनेंसरो से तंग आकर आत्महत्या कर ली। इस घटना को अंजाम देने से पहले पीड़ित ने सुसाइड नोट भी लिखा और यह भी बता दिया कि कैसे फाइनेंसरों ने उसके द्वारा ली गई राशि को कितना बढ़ा दिया और उसके मकान का बयाना भी अपने आप कर लिया।

दरअसल ग्रीन विहार निवासी डॉ. मनोज कुमार ने पैसे की तंगी के चलते चार फाइनेंसरो से पैसे ब्याज पर लिए थे लेकिन इस बीच फाइनेंसरों ने जो रकम उसे दी उस पर ब्याज लगाकर उसे लाखों में तब्दील कर दिया। हालांकि अलग-अलग फाइनंसरों से डेढ़ से दो लाख के बीच पैसे लिए थे लेकिन उस पर ब्याज ऐसा लगा कि वह पैसा 18 लाख तक हो गया। पीड़ित परिवार का कहना है कि वो फाइनेंसरो के पैसे का बयाज उन्हें लौटाते रहे लेकिन ब्याज के साथ-साथ असल पैसे भी फाइनसेंर बढ़ाते गए।

Doctor commits suicide in Yamunanagar of Haryana

मनोज इस कदर फाइनेंसरों से तंग था कि उसको सिवाए मौत के और कुछ भी समझ नहीं आ रहा था। देर रात मनोज ने एक सुसाइड नोट लिखा जिसमें उसने फाइनेंसरों के आतंक की पूरी कहानी लिख दी और यह भी लिखा कि जिस कागज पर फाइनेंसरों ने साइन लिए उस पर मकान का ब्याना भी लिख दिया और दो लाख की जगह 15 लाख बना दिए।
हालांकि इस बीच उसे अपनी पत्नी के बैंक के भी चेक फाइनेंसरो को मजबूरी में देने पड़े और अब वह न केवल उसे परेशान कर रहे थे बल्कि उसकी पत्नी को भी परेशान किया जा रहा था। मनोज ने सुसाइड नोट में फाइनेंसरों के नाम नंबर व पता लिखने के बाद सल्फास खाकर आत्म हत्या कर ली। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेने के बाद उसे पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल जगाधरी भेज दिया और पुलिस ने इस मामले को लेकर सुसाइड नोट के आधार पर मामला दर्ज कर जांच आरंभ कर दी है।

---PTC NEWS---

adv-img
adv-img