हरियाणा

FarmLawsRepealed: कृषि कानूनों की वापसी पर किसानों में दीवाली जैसा माहौल, PM मोदी को लेकर कही ये बात

By Vinod Kumar -- November 19, 2021 1:37 pm

रेवाड़ी: तीन कृषि कानूनों को वापस (Farm Laws Repealed) लेने के बाद आप किसानों में खुशी की लहर है। पूरे हरियाणा में किसान खुश हैं। जगह जगह किसान एक दूसरे का मुंह मीट्ठा करवाकर और नाच कर अपनी खुशी का इजहार कर रहे हैं।

कृषि कानूनों की वापसी पर रेवाड़ी-झज्जर हाईवे (Rewari-Jhajjar Highway) पर गंगायचा टोल प्लाजा (toll plaza) पर धरना दे रहे किसानों ने एक-दूसरे को लड्डू खिलाकर अपनी खुशी का इजहार किया, लेकिन किसानों का साफ तौर पर कहना है कि ये किसान एकता और जनता की जीत है। दोनों ने एक दूसरे का साथ दिया है। भले ही कृषि कानूनों की वापसी का ऐलान कर दिया गया हो, लेकिन लड़ाई अभी बाकी है। इस आंदोलन में 700 से ज्यादा किसानों ने अपनी शहादत दी उन पर एक भी शब्द प्रधानमंत्री मोदी ने नहीं बोला।

बता दें कि गुरु पर्व पर देश के नाम दिए अपने संबोधन में पीएम मोदी ने तीन कृषि कानूनों की वापसी का ऐलान किया और किसानों से धरना खत्म कर घर लौट जाने की अपील की है। पीएम मोदी के इस ऐलान के बाद लोगों को उम्मीद थी की लगभग एक साल से चल रहा किसान आंदोलन समाप्त हो जाएगा, लेकिन किसान नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने साफ कर दिया है कि किसान आंदोलन (farmer protest) तत्‍काल वापस नहीं होगा।

भारतीय किसान यूनियन (BKU) के प्रवक्‍ता राकेश टिकैत ने एक ट्वीट में लिखा, 'आंदोलन तत्काल वापस नहीं होगा, हम उस दिन का इंतजार करेंगे जब कृषि कानूनों को संसद में रद्द किया जाएगा। सरकार न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य के साथ-साथ किसानों के दूसरे मुद्दों पर भी बातचीत करें'।

  • Share