पुलिस को चकमा देकर बस में दिल्ली जा रहा था किसान नेता, धरा गया

Farmer Leader Taken in Custody
पुलिस को चकमा देकर बस में दिल्ली जा रहा था किसान नेता, धरा गया

चंडीगढ़। सीमाओं पर नाकेबंदी के बीच किसान नेता दिल्ली कूच करने का प्रयास कर रहे हैं। लेकिन बॉर्डर सील होने और चैकपोस्टों पर चैकिंग होने से किसान नेता दिल्ली नहीं पहुंच पा रहे। भाकियू के युवा प्रदेश उपाध्यक्ष विक्रम कसाना भी कुरुक्षेत्र से दिल्ली कूच करने वाले थे मगर उससे पहले ही उन्हें हिरासत में ले लिया गया।

Farmer Leader Taken in Custody
पुलिस को चकमा देकर बस में दिल्ली जा रहा था किसान नेता, धरा गया

विक्रम कसाना को पुलिस ने पबनावा गांव में लगे नाके पर हिरासत में लिया। विक्रम कसाना हरियाणा रोडवेज की बस से कुरुक्षेत्र जा रहे थे और यहां से दिल्ली कूच करने वाले थे। पुलिस ने उनके साथ ही कई अन्य किसानों को भी हिरासत में लिया है।

यह भी पढ़ें- हरियाणा सरकार का बड़ा फैसला, दो दिन के लिए बॉर्डर किए सील

Farmer Leader Taken in Custody
पुलिस को चकमा देकर बस में दिल्ली जा रहा था किसान नेता, धरा गया

इस बीच हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने किसानों से ‘दिल्ली चलो‘ आह्वान के अपने प्रस्ताव को राज्यहित में वापिस लेने की अपील की है। उन्होंने कहा कि तीनों कृषि अधिनियम किसानों के हित में हैं और प्रदेश में मंडी व न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) की व्यवस्था वर्तमान की तरह भविष्य में भी जारी रहेगी।

यह भी पढ़ें- पीएम मोदी बोले- सब तक पहुंचेगी वैक्सीन, डिस्ट्रीब्युशन पर अभी से काम शुरू कर दें राज्य

Farmer Leader Taken in Custody
पुलिस को चकमा देकर बस में दिल्ली जा रहा था किसान नेता, धरा गया

मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों को पहले ही आश्वस्त किया जा चुका है कि राज्य सरकार न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गेहूं और धान की खरीद करने के साथ-साथ बाजरा, सरसों, मूंग, सूरजमुखी आदि की खरीद जारी रखेगी तथा किसानों की सुविधा के लिए राज्य में अतिरिक्त मंडियों की स्थापना भी की जाएगी। उन्होंने किसानों से उन लोगों से सतर्क रहने का भी आग्रह किया जो अपने स्वार्थ के लिए किसानों को गुमराह करने की कोशिश करते हैं।