किसानों ने अंबाला में तोड़े बैरिकेड्स, चढूनी बोले- आधे घंटे में करेंगे दिल्ली के लिए कूच

Farmers break barricades
किसानों ने अंबाला में तोड़े बैरिकेड्स, चढूनी बोले- आधे घंटे में करेंगे दिल्ली के लिए कूच

अंबाला। कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली कूच पर अड़े किसानों ने अंबाला में बैरिकेड्स को तोड़ दिया। किसान पुलिस द्वारा लगाए बैरिकेट्स को तोड़कर आगे बड़ गए। इस दौरान किसानों और पुलिस के बीच हल्की धक्का मुक्की भी हुई। किसानों ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और कहा कि वो हर हाल में दिल्ली जाकर रहेंगे।

Farmers break barricades
किसानों ने अंबाला में तोड़े बैरिकेड्स, चढूनी बोले- आधे घंटे में करेंगे दिल्ली के लिए कूच

किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी ने कहा कि हमने बैरिकेड्स तोड़ दिए हैं। पुलिस ने हमारी ताकत देख ली है। पुलिस प्रशासन सरकार से बात करना चाह रहा है इसलिए हमने उन्हें आधे घंटे का समय दिया है। आधे घंटे बाद हम दिल्ली के लिए कूच करेंगे।
यह भी पढ़ें- हरियाणा सरकार का बड़ा फैसला, दो दिन के लिए बॉर्डर किए सील

यह भी पढ़ें- पीएम मोदी बोले- सब तक पहुंचेगी वैक्सीन, डिस्ट्रीब्युशन पर अभी से काम शुरू कर दें राज्य

बता दें कि सीमाओं पर नाकेबंदी के बीच किसान नेता दिल्ली कूच करने का प्रयास कर रहे हैं। लेकिन बॉर्डर सील होने और चैकपोस्टों पर चैकिंग होने से किसान नेता दिल्ली नहीं पहुंच पा रहे।

Farmers break barricades
किसानों ने अंबाला में तोड़े बैरिकेड्स, चढूनी बोले- आधे घंटे में करेंगे दिल्ली के लिए कूच

इससे पहले भाकियू के युवा प्रदेश उपाध्यक्ष विक्रम कसाना को पुलिस ने हिरासत में ले लिया था। विक्रम कसाना कुरुक्षेत्र से दिल्ली कूच करने वाले थे मगर उन्हें हिरासत में ले लिया गया। वे हरियाणा रोडवेज की बस से कुरुक्षेत्र जा रहे थे।

Farmers break barricades
किसानों ने अंबाला में तोड़े बैरिकेड्स, चढूनी बोले- आधे घंटे में करेंगे दिल्ली के लिए कूच

इस बीच हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने किसानों से ‘दिल्ली चलो‘ आह्वान के अपने प्रस्ताव को राज्यहित में वापिस लेने की अपील की है। उन्होंने कहा कि तीनों कृषि अधिनियम किसानों के हित में हैं और प्रदेश में मंडी व न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) की व्यवस्था वर्तमान की तरह भविष्य में भी जारी रहेगी।