सड़क पर बैठने से नहीं, केंद्र से वार्ता करके होगा किसान आंदोलन का समाधान: अजय चौटाला

By Arvind Kumar - September 04, 2021 9:09 am

चंडीगढ़। जेजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. अजय चौटाला ने कहा कि पार्टी ने प्रदेश के तमाम वर्गों से जो-जो चुनावी वादें किए थे, उन्हें प्रदेश सरकार तेजी से अमली जामा पहना रही हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के युवाओं के रोजगार के लिए 75 प्रतिशत रोजगार कानून, पंचायतीराज संस्थाओं में महिलाओं की 50 प्रतिशत की भागीदारी सुनिश्चित, ग्राम पंचायत के चुनाव में पहली बार बीसीए वर्ग को आठ प्रतिशत आरक्षण जैसे तमाम कदम सरकार ने उठाए है।
उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा किसान हित में जहां देशभर में सबसे ज्यादा फसलों पर एमएसपी किसानों को दिया जा रहा है तो वहीं मंडी व्यवस्था को और मजबूत बनाने के लिए नई मंडियों भी बनाई जा रही है। यही नहीं फसल खरीद के बाद राज्य सरकार सीधा किसानों के खाते में भुगतान कर कर रही है।

यह भी पढ़ें- अभय चौटाला बोले- IAS अधिकारी को सजा देने के बजाय तबादला कर दिया इनाम 

यह भी पढ़ें- राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने करनाल लाठीचार्ज को लेकर DC और SP से तलब की रिपोर्ट

किसान आंदोलन के संदर्भ में डॉ अजय सिंह चौटाला ने कहा कि किसी भी मुद्दे का समाधान सड़क पर बैठकर नहीं बल्कि वार्ता करके ही होता है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार वार्ता के लिए तैयार है इसलिए किसान नेता भी बातचीत के लिए आगे आए।


अजय चौटाला ने कहा कि अगर किसान नेता केंद्र सरकार से चर्चा करना चाहते हैं तो हम केंद्र से बातचीत करके मध्यस्थता करवाने के लिए तैयार हैं। उन्होंने ये भी कहा कि किसान आंदोलन की आड़ में विपक्षी नेता किसानों को गुमराह करके अपनी राजनीतिक रोटियां सेकने की कोशिश कर रहे हैं इसलिए ऐसे लोगों से सतर्क व सावधान रहने की आवश्यकता है।

यह बात जेजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. अजय सिंह चौटाला ने अपने प्रदेश स्तरीय दौरे के दौरान गुरूग्राम व नूंह जिले में जेजेपी जिला कार्यकारिणी द्वारा आयोजित विभिन्न कार्यक्रमों को संबोधित करते हुए कही।

adv-img
adv-img