प्रत्येक दिन करीब 4 लाख मीट्रिक टन की औसत से खरीदी जा रही किसानों की गेहूं: डिप्टी सीएम

By Arvind Kumar - April 30, 2020 7:04 pm

चंडीगढ़। प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने प्रदेशभर की मंडियों में मौजूदा फसल खरीद प्रक्रिया को देखते हुए 15 मई, 2020 तक फसल खरीद कार्यों को संपन्न करने की उम्मीद जताई है। वे जननायक जनता पार्टी के हलका प्रधानों के साथ दूसरे चरण की ऑनलाइन बैठक करके उनके विधानसभा क्षेत्रों में किसानों की फसल खरीद प्रक्रिया व कोरोना महामारी संबंधित मौजूदा हालतों का जायजा ले रहे थे। बैठक में उन्होंने बताया कि सरकार प्रदेशभर की मंडियों में से प्रत्येक दिन करीबन चार लाख मीट्रिक टन की औसतन से किसानों की गेहूं की फसल की खरीद कर रही है। उन्होंने बताया कि 29 अप्रैल तक मंडियों में करीब 30 लाख मीट्रिक टन गेहूं और लगभग तीन लाख मीट्रिक टन सरसों की खरीद की जा चुकी है। साथ ही उन्होंने सभी से आग्रह भी किया कि वे छोटे किसानों की चिंता करते हुए बड़े किसानों से मंडियों में गेहूं देरी से लाने के लिए अपील करें।

Deputy CM On Wheat Purchase | Haryana News | Dushyant Chautala प्रत्येक दिन करीब 4 लाख मीट्रिक टन की औसत से खरीदी जा रही किसानों की गेहूं: डिप्टी सीएम

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि शुरुआती दिनों में जरूर व्यवस्था स्थापित करने में थोड़ी बहुत समस्याएं आई थी लेकिन सरकार ने तुरंत किसानों व आढ़तियों से बातचीत करके उन समस्याओं का हल किया और फसल खरीद में तेजी लाई। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी को देखते हुए सरकार ने जो उचित व्यवस्था स्थापित की थी उसके अनुसार 30 दिनों में फसल खरीद प्रक्रिया को पूरा करने का लक्ष्य रखा गया था और उसे 15 मई तक किसान व आढ़ती भाईयों के सहयोग से पूरा किया जायेगा। बैठक में दुष्यंत चौटाला ने प्रदेश के बड़े किसानों एवं पार्टी के पदाधिकारियों से आग्रह किया कि वे छोटे किसानों की चिंता करते हुए उन्हें पहले अपनी फसल बेचने का अवसर दें ताकि जो छोटे किसान अपनी फसल को स्टोर नहीं कर सकते, उन्हें परेशानी ना हो।

बैठक में रोहतक जिले से एक हलका प्रधान द्वारा कई गांवों के लिए दो नए फसल खरीद केंद्र बनाने की मांग पर बोलते हुए डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कहा कि सरकार ने पिछले साल से चार गुणा अधिक मंडियों को प्रदेशभर में स्थापित किया है। उन्होंने आगे उन्हें आश्वत करते हुए कहा कि सरकार अब भी किसानों व आढ़तियों की जरूरत व मांग अनुसार नए परचेज सेंटर बना रही है। उन्होंने कहा कि मंडियों में आने वाले किसानों व आढ़तियों को जो भी समस्या आ रही है उसे पदाधिकारी सरकार को बताने का काम करें ताकि उनका तुरंत हल किया जा सके। दुष्यंत चौटाला ने कहा कि इसी मकसद वे रोजाना पार्टी के पदाधिकारियों से जुड़कर फसल खरीद का जायजा ले रहे है ताकि किसानों व आढ़तियों को किसी प्रकार की कोई समस्या न आएं।

---PTC NEWS---

adv-img
adv-img