डर के आगे जीत नहीं….मौत!

Fear of cancer became the reason of girl death
डर के आगे जीत नहीं....मौत!

गुरुग्राम। (नीरज वशिष्ठ) साइबर सिटी गुरुग्राम में एक छात्रा ने गलतफहमियों की वजह से खुद का ही गला घोट दिया। घटना भोंडसी थाना छेत्र गढ़ी मुरली गांव की है। दसवीं कक्षा में पढ़ने वाली छात्रा ने महज इसलिए जान दे दी की उसे डर था की उसे कैंसर हो गया है। पुलिस ने छात्रा के शव के पास से एक सुसाइड नोट बरामद किया है जिस पर छात्रा ने लिखा है कि वो कैंसर से पीड़ित है और वो जीना नहीं चाहती, इसलिए वो अपनी जान दे रही है।

Fear of cancer became the reason of girl death
डर के आगे जीत नहीं….मौत!

16 साल की मृतक छात्रा का नाम चंचल है और ये दो दिन बाद ही गुरुकुल में जाने वाली थी। परिवारवालों की माने तो मृतका पढ़ने में काफी होशियार थी। लेकिन कुछ समय से एलर्जी से पीड़ित थी। एलर्जी की दवा भी खा रही थी। लेकिन इसी बीच किसी ने छात्रा को बहका दिया कि उसे कैंसर हो गया है जिससे छात्रा काफी परेशान हो गई और ब्लड कैंसर होने के डर से मौत को गले लगा लिया। हालांकि छात्रा को ब्लड कैसर है या नहीं ये जांच का विषय है।

Fear of cancer became the reason of girl death
डर के आगे जीत नहीं….मौत!

फिलहाल पुलिस ने छात्रा के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और मामले की गंभीरता से जांच कर रही है।

यह भी पढ़ें: चंडीगढ़ सेक्टर 37 में फिल्मी स्टाइल में एक्सीडेंट, खड़ी गाड़ियों पर चढ़ी फॉर्च्यूनर

—PTC NEWS—