हिमाचल

जनमंच में रोते हुए वन मंत्री के सामने की अधिकारियों की शिकायत, कहा: 3 सालों से नहीं कर रहे सुनवाई

By Vinod Kumar -- November 21, 2021 4:25 pm

कांगड़ा: जनता की समस्याओं को हल करने के लिए प्रदेश सरकार ने जनमंच कार्यक्रम (Jan Manch) शुरू किया था। समय समय पर इस कार्यक्रम के आयोजन प्रदेशभर में होते रहते हैं। कैबिनेट मंत्री जनमंच कार्यक्रमों में प्रदेश की जनता की समस्याओं को सुनते हैं। जनमंच में मौके पर जनता की समस्याओं का समाधान किया जाता है।

रविवार को वन मंत्री राकेश पठानिया (Forest Minister Rakesh Pathania) ने कांगड़ा के जयसिंहपुर में जनमंच कार्यक्रम (Jan Manch ) की अध्यक्षता की। जैसे ही जनमंच शुरू हुआ समस्याओं का अंबार वन मंत्री के सामने लग गया। इस दौरान महिलाओं ने भी अपनी समस्याएं रखी। कई परिवार ऐसे हैं जो आज भी मुख्यमंत्री आवास योजना से वंचित हैं और जिन्हें यह हक मिलना है उन लोगों को यह हक नहीं मिल पाया है। इसी दौरान एक बच्ची ने रोती हुए वन मंत्री को अपनी समस्या सुनाई। बच्ची ने कहा कि वह 2018 से सीएम आवास योजना के तहत घर के लिए आवेदन कर रही है। आवेदन कई बार किया जा चुका है, लेकिन अधिकारी उनकी नहीं सुनते।

वन मंत्री राकेश पठानिया ने बच्ची की मांग को सुनते ही अधिकारियों को 2 दिन के अंदर रिपोर्ट पेश करने को कहा। वन मंत्री ने बच्ची को आश्वासन दिया कि उनकी मांग जरूर पूरी की जाएगाी। बता दें कि इस बच्ची के सिर से पिता का साया उठ गया है और घर पर कमाने वाला भी कोई नहीं है। अकेली मां अपनी चार बेटियों को पाल रही है। अभी परिवार बड़ी मुश्किल से एक कमरे में गुजारा कर रहा है। वन मंत्री के आश्वासन के बाद बच्ची को उम्मीद की किरण नजर आई है।

  • Share