adv-img
अपराध/हादसा

ट्यूशन पढ़ाकर घर लौट रही युवती से गैंगरेप, 18 घंटे तक पीड़िता से थाने के चक्कर लगवाती रही पुलिस

By Vinod Kumar -- October 17th 2022 05:52 PM -- Updated: October 17th 2022 06:07 PM

लखनऊ/जय कृष्ण:

विभूति खंड इलाके में ट्यूशन पढ़ाकर लौट रही छात्रा को अगवा कर गैंगरेप के मामले में पुलिस ने आरोपी आकाश तिवारी को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार आरोपी आकाश तिवारी भी ऑटो चालक है। आकाश ऑटो में पीछे बैठा था। शनिवार को ट्यूशन पढ़ाकर लौट रही छात्रा को ऑटो चालक व उसके साथी ने अगवा कर लगभग 3 घंटे तक बंधक बनाकर गैंगरेप किया था। शनिवार की देर शाम ही गोमतीनगर इलाके के हुसडिया चौराहे के पास फेंक कर फरार हो गए।

बेसुध अवस्था से होश में आने के बाद छात्रा ने अपने परिजनों को फोन किया। छात्रा के परिजन मामले की शिकायत लेकर स्थानीय पुलिस बूथ पर पहुंचे। पुलिस बूथ पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने छात्रा के परिजनों को टरका दिया। गंभीर अवस्था में छात्रा एक थाने से दूसरे थाने के चक्कर काटती रही, लेकिन पुलिस ने मुकदमा दर्ज नहीं किया। रविवार को मामला सोशल मीडिया में आया तो पुलिस के आला अधिकारी हरकत में आए।


Karnataka HC serves ruling on marital rape

अधिकारियों की फटकार के बाद लखनऊ के विभूति खंड थाने में पीड़िता की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया गया। आरोपियों की शिनाख्त आकाश और इमरान के नाम से हुई। विभूतिखंड पुलिस ने ऑटो चालक इमरान के साथी आकाश तिवारी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस की कई टीमें दूसरे फरार आरोपी की गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही हैं।

घटना शनिवार देर शाम लखनऊ के पॉश इलाके विभूति खंड क्षेत्र की है। छात्रा के मुताबिक "वह ट्यूशन पढ़ा कर देर शाम अपने घर के लिए लौट रही थी। कठौता झील के पास एक ऑटो आकर रुका। ऑटो में चालक के साथ एक अन्य व्यक्ति भी मौजूद था। पीड़िता ने चारबाग चलने के लिए कहा तो ऑटो ड्राइवर ने 'हां' बोला। जिसके बाद पीड़िता ऑटो में बैठी थी।,लेकिन जब हुसडिया चौराहे पर ऑटो चालक ने ऑटो शहीद पथ की तरफ मोड़ा तो, पीड़िता ने इसका विरोध किया, लेकिन आरोपियों ने पीड़िता के सिर में कई वार कर उसे बेसुध कर दिया और फिर सुशांत गोल्फ सिटी थाना क्षेत्र के फिनिक्स प्लासियो के पीछे बनी झाड़ियों में ले जाकर गैंग रेप किया। पीड़िता के मुताबिक आरोपियों ने करीब 3 घंटे तक उसे बंधक बनाकर रखा। देर शाम सुनसान जगह देख कर हुसडिया चौराहे के पास ऑटो से नीचे फेंक कर भाग गए।


ਇਨਸਾਨੀਅਤ ਹੋਈ ਸ਼ਰਮਸਾਰ, ਸੇਵਾਮੁਕਤ ਹੈਡਮਾਸਟਰ ਨੇ ਕੀਤਾ ਕਾਰਾ


तीन थानों की पुलिस ने 18 घंटे तक टरकाया

पीड़िता के मुताबिक शनिवार शाम को दुष्कर्म की वारदात के बाद इसकी शिकायत लेकर वह गोमतीनगर थाने पहुंची। थाने पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने बताया कि मामला विभूति खंड थाना क्षेत्र का है। इसीलिए वहां जाइए। जब वह विभूति खंड थाने पहुंची, तो उसे बताया गया कि मामला सुशांत गोल्फ सिटी थाना क्षेत्र का है। पीड़िता के घर वाले शनिवार से लेकर करीब 18 घंटे तक तीनों थानों के चक्कर काटते रहे। सोशल मीडिया में वायरल वायरल होने के बाद पुलिस हरकत में आई और फटकार के बाद विभूति खंड थाने में मुकदमा दर्ज किया गया।

डीसीपी पूर्वी प्राची सिंह छात्रा का हाल जानने के लिए देर शाम झलकारी बाई अस्पताल पहुंची। उन्होंने बताया कि पीड़िता से मुलाकात हुई है। झलकारी बाई अस्पताल में पीड़िता का इलाज चल रहा है । मामले में एफआईआर दर्ज कर ली गई है। आरोपियों को जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।


Minor's-rape-in-train-shocks-Mumbai-2

छात्रा को अगवा कर गैंगरेप के मामले में डीसीपी पूर्वी प्राची सिंह ने कार्रवाई करते हुए हुसडिया चौकी इंचार्ज हुसैन अब्बास को निलंबित कर दिया है। विभूति खंड, गोमती नगर और सुशांत गोल्फ सिटी के थाना प्रभारी को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। घटना की जानकारी के बावजूद लापरवाही बरतने और उच्च अधिकारियों से घटना छुपाए रखने के चलते नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया है।

  • Share