किसान आंदोलन की आड़ में उपद्रवियों से अब सख्ती से निपटेगी सरकार

By Arvind Kumar - July 29, 2021 10:07 am

रेवाड़ी। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि किसान आंदोलन की आड़ में उपद्रवियों से अब सरकार सख्ती से निपटेगी। क्योंकि आंदोलन की आड़ में कुछ राजनीतिक ताकतें काम कर रही हैं। आंदोलन के दौरान एक के बाद एक भाजपा नेताओं पर आंदोलनकारियों द्वारा हमले होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि आंदोलन में उपद्रवियों पर सरकार ने पहले सख्त नहीं की जिसकी वजह से यह लगातार बढ़ती गई लेकिन अब इन पर सख्ती की जाएगी।

दरअसल रेवाड़ी-दिल्ली रोड स्थित केएलपी कॉलेज परिसर में बने ऑडिटोरियम हॉल में कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करने सीएम मनोहर लाल रेवाड़ी पहुंचे थे। उन्होंने कार्यकर्ता सम्मेलन से पहले रेवाड़ी के गांव माजरा में बनने वाले प्रस्तावित एम्स को लेकर मौका मुआयना किया। इसके पश्चात वह स्थानीय केएलपी कॉलेज पहुंचे जहां उन्होंने खेल परिसर में विश्व प्रकृति संरक्षण दिवस के उपलक्ष में त्रिवेणी लगाकर पर्यावरण बचाने का संदेश दिया। पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि

यह भी पढ़ें- हरियाणा-पंजाब में दो दिन का येलो और ऑरेंज अलर्ट जारी

यह भी पढ़ें- सोनीपत में सामने आया हॉरर किलिंग का मामला


रेवाड़ी के मात्रा में बनने वाले प्रस्तावित एम्स को लेकर उन्होंने कहा कि किसानों और सरकार के बीच जमीन लेने को छोटे-छोटे वाद-विवाद हैं उन्हें जल्द सुलझाकर हल निकाला जाएगा। सीएम खट्टर से जब पूछा गया कि लाल डोरा के बाहर बने मकानों के मालिकों को मालिकाना हक कब तक दिया जाएगा तो उन्होंने कहा कि लाल डोरे का काम समाप्त होने के बाद उन्हें भी मालिकाना हक दिया जाएगा।

धारूहेड़ा में राजस्थान का गंदा पानी आने के सवाल पर उन्होंने कहा कि अधिकारियों को आदेश दिए गए हैं। अब राजस्थान की सीमा से हरियाणा में एक बूंद भी पानी नहीं आने दिया जाएगा। इस कार्यकर्ता सम्मेलन में सीएम मनोहर लाल खट्टर ने भाजपा कार्यकर्ताओं से अपने मन की बात की लेकिन किसान आंदोलन के चलते सुरक्षा चाक-चौबंद रखी गई थी।

adv-img
adv-img