गेहूं की ऐवज में 9 हजार करोड़ रुपये किसानों के खातों में : कृषि मंत्री

Haryana Agriculture Minister Press Conference

भिवानी। हरियाणा के कृषि मंत्री जयप्रकाश दलाल ने भिवानी में पत्रकार वार्ता के दौरान बताया कि हरियाणा प्रदेश में अबकी बार गेहूं की बंपर फसल हुई है तथा 74 लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीदा जा चुका है। जिसकी कीमत 15 हजार करोड़ रूपये की है। जिसमें से 9 हजार करोड़ रूपये किसानों के खातों में भेजे जा चुके हैं। वहीं सरसों की खरीद की एवज में भी दो हजार करोड़ रूपये किसानों को भेजे जा चुके हैं।

कृषि मंत्री ने कहा कि अब भी किसानों ने गेहूं व सरसों की फसल खरीदी जा रही है। उन्होंने कहा कि हरियाणा प्रदेश की मंडियों में पिछले डेढ़ माह के दौरान 6 लाख किसान, एक लाख मजदूर व एक लाख व्यापारी पहुंचे, परन्तु उचित प्रबंधन के चलते प्रदेश की मंडियो से एक भी कोरोना का केस नहीं आया है।

कृषि मंत्री जयप्रकाश दलाल ने बताया कि प्रदेश सरकार ने मंडियों में बेहतर प्रबंधन करते हुए किसानों की गेहूं व सरसो की फसलों को बाजार भाव मूल्य पर खरीदने का रिकॉर्ड बनाया है। बाजार में गेहूं का मूल्य 1900 रूपये है, जबकि सरकार ने 1925 रूपये प्रति क्विंटल, वहीं सरकार का मूल्य बाजार में 4350 जबकि सरकार ने 4425 रूपये प्रति क्विंटल खरीदा। पिछले वर्ष जहां गेहूं के लिए 400 मंडियां थी, वहां अबकी बार 1800 मंडियां बनाई गई। सरसो की मंडियां भी 40 से बढ़ाकर 150 की गई।

Haryana Agriculture Minister Press Conferenceकृषि मंत्री ने प्रदेश के किसानों से पानी की कमी को देखते हुए आह्वान किया कि जिन खंडों में भूमिगत जलस्तर 45 मीटर से नीचे है, वे किसान यदि धान की खेती नहीं करते हैं तो उन्हें सात हजार रूपये प्रति एकड़ दिया जाएगा। इसके साथ ही जिन खंडों में भूमिगत जलस्तर 500 से 600 फुट चला गया है, ऐसे प्रदेश के 40 खंडों में टपका विधि उपकरणों पर 100 प्रतिशत तक सब्सिडी दी जा रही है।

—PTC NEWS—