adv-img
राजनीति

करनाल में किसानों और प्रशासन के बीच बैठक जारी, सीएम बोले- कोई ना कोई रास्ता निकलेगा

By Arvind Kumar -- September 7th 2021 02:45 PM -- Updated: September 7th 2021 02:48 PM

चंडीगढ़। करनाल में किसानों की महापंचायत पर हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर ने प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में सभी को कार्यक्रम करने का अधिकार है। किसानों ने वहां एक सभा बुलाई है जो चल रही है। साथ ही एक किसानों की कमेटी भी बनी है जिसकी प्रशासन से बातचीत चल रही है। मुझे लगता है कि कोई न कोई रास्ता निकल जाएगा।

उल्लेखनीय है कि किसानों की मांगों को लेकर जिला सचिवालय में प्रशासन और किसानों की 11 सदस्यीय कमेटी में बातचीत चल रही है। बैठक में उपायुक्त और एसपी सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारी मौजूद है। वहीं किसानों की ओर से गुरनाम चढूनी, राकेश टिकैत, योगेंद्र यादव, बलबीर राजेवाल, अजय राणा, सुखविंदर सिंह, सुरेश कोथ, रामपाल चहल, डॉक्टर दर्शन पाल, विकाश शिखर और इंद्रजीत बैठक में मौजूद है।

यह भी पढ़ें- हरियाणा में आंदोलन की ज़रूरत नहीं, 3 कृषि कानून अभी लागू नहीं हैं: जेपी दलाल

यह भी पढ़ें- Karnal Mahapanchayat: NH 44 पर यात्रा करने से बचें, यातायात हो सकता है बाधित

दरअसल किसानों की तीन मुख्य मांगें हैं। जिनमें मृतक किसान के परिवार को 25 लाख का मुआवजा व परिवार के एक सदस्य को नौकरी, लाठीचार्ज में घायल किसानों को 2-2 लाख रुपए मुआवजा और लाठीचार्ज के आदेश देने वाले आरोपी SDM समेत तमाम पुलिस अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज कर सख्त कार्रवाई।

इससे पहले सोमवार को भी जिला प्रशासन और किसान नेताओं के बीच बैठक हुई जो कि बेनतीजा रही। ऐसे में इस मीटिंग में भी कुछ खास नतीजा निकलकर आने की संभावना कम ही है।

  • Share