कोरोना की जंग हारे डीएसपी अशोक कुमार दहिया, पैतृक गांव में हुआ अंतिम संस्कार

कोरोना की जंग हारे डीएसपी अशोक कुमार दहिया, पैतृक गांव में हुआ अंतिम संस्कार

झज्जर। (प्रवीण अहलावत) झज्जर जिला के डीएसपी अशोक कुमार दहिया लंबी लड़ाई के बाद कोरोना से जंग हार गए। अशोक कुमार बादली में डीएसपी पद पर कार्यरत थे। वे 1996 में सब इंस्पेक्टर पद पर भर्ती हुए थे। कुछ दिन पहले उन्हें बुखार और खांसी की समस्या उत्पन्न हुई उसके बाद उन्होंने अपना कोरोना टेस्ट कराया और वह पॉजिटिव आए उसके बाद उन्हें बाढसा स्थित एम्स में भर्ती कराया गया।

लंबी लड़ाई के बाद आखिर कल उन्होंने दम तोड़ दिया उसके बाद उनके पार्थिव शरीक को उनके पैतृक गांव ले जाया गया जो कि सोनीपत जिले में है जहां उनका अंतिम संस्कार किया गया।
 इस मौके पर झज्जर जिला पुलिस कप्तान राजेश दुग्गल भी पहुंचे और उन्होंने अपने बहादुर जांबाज योद्धा को अंतिम विदाई दी। अंतिम विदाई के मौके पर उनके परिवार के साथ-साथ सोनीपत पुलिस, झज्जर पुलिस के जवानों की आंखें भर आईं।

यह भी पढ़ें- संक्रमित कर्मियों के लिए कोविड देखभाल केंद्र स्थापित करेगी हरियाणा पुलिस

यह भी पढ़ें- अभय चौटाला ने दवाइयों की कालाबाजारी पर सरकार को घेरा

कोरोना की जंग हारे डीएसपी अशोक कुमार दहिया, पैतृक गांव में हुआ अंतिम संस्कार

मीडिया से मुखातिब होते हुए एसपी राजेश दुग्गल ने बताया बड़ी लंबी लड़ाई के बाद हमारे बहादुर डीएसपी अशोक कुमार कोरोना को नहीं हरा पाए आज उनका अंतिम संस्कार किया गया।