दिल्ली हिंसा: राजधानी से सटे हरियाणा के जिलों के लिए एडवाइजरी जारी

Haryana Police issues advisory on law and order in the wake of Delhi stir
दिल्ली हिंसा: राजधानी से सटे हरियाणा के जिलों के लिए एडवाइजरी जारी

चंडीगढ़। हरियाणा पुलिस ने सीएए/एनआरसी के विरोध प्रदर्शन के दौरान राष्ट्रीय राजधानी में हाल ही में हुई हिंसा के मद्देनजर राज्य भर में विशेष रूप से दिल्ली से सटे जिलों के लिए कानून-व्यवस्था की स्थिति बनाए रखने के लिए एडवाइजरी जारी की है। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून एवं व्यवस्था) नवदीप सिंह विर्क ने जानकारी देते हुए बताया कि पिछले दो दिनों में राष्ट्रीय राजधानी में हिंसा, पथराव, आगजनी आदि की कई घटनाएं देखी गई हैं। पुलिस ने एहतियाती कदम उठाते हुए, राज्य के सभी पुलिस आयुक्तों और जिला पुलिस अधीक्षकों को एडवाइजरी जारी कर पुलिस बल को अतिरिक्त सतर्क रहने और अपने संबंधित क्षेत्राधिकार में हिंसा की किसी भी प्रयास को रोकने के लिए सभी आवश्यक एहतियाति उपाय करने के लिए कहा गया है।

Haryana Police issues advisory on law and order in the wake of Delhi stir
दिल्ली हिंसा: राजधानी से सटे हरियाणा के जिलों के लिए एडवाइजरी जारी

एडवाइजरी की जानकारी देते हुए, विर्क ने कहा कि फील्ड में तैनात वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए अधिकतम पुलिस बल जुटाने के लिए कहा गया है। दिल्ली में हाल की हिंसा के मद्देनजर, पुलिस अधिकारियों को आवश्यक सावधानी बरतने और प्रदेष में विशेष रूप से फऱीदाबाद, गुरुग्राम, सोनीपत, नूंह जिलों में कानून-व्यवस्था और शांति बनाए रखने के लिए सभी संभव संसाधन जुटाने के लिए निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि पुलिस ने राज्य में गश्त बढ़ा दी है और एहतियात के तौर पर राष्ट्रीय राजधानी से सटी सीमाओं में चैकसी भी तेज कर दी है।

कानून और व्यवस्था की स्थिति को बनाए रखने के लिए जिला उपायुक्तों, एसडीएम, तहसीलदारों और अन्य विभागों के साथ बेहतर समन्वय बनाए रखने के लिए पुलिस अधिकारियों को कहा गया है। आवश्यकता की स्थिति में ड्यूटी मजिस्ट्रेटों की नियुक्ति निरोधात्मक आदेशों को लागू करने का भी निर्देश दिया गया है।

यह भी पढ़ें: SYL पर सीएम खट्टर बोले- लेकर रहेंगे पानी, कैप्टन ने कहा- जान दे दूंगा पानी नहीं

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर भ्रामक जानकारी साझा करने वालों को चेतावनी देते हुए, विर्क ने नागरिकों से ऐसे अफवाह फैलाने वालों के बहकावे में न आने और समाज में शांति व्यवस्था बनाए रखने में अपना सहयोग प्रदान करने का आग्रह भी किया। उन्होंने असामाजिक तत्वों को भी चेतावनी देते हुए कहा कि कानून एवं व्यवस्था से खिलवाड़ करने और किसी भी प्रकार की हिंसात्मक गतिविधियों में शामिल होने वालों से कानून अनुसार सख्ती से निपटा जाएगा।

—PTC NEWS—