कंगना का ऑफिस तोड़ने पर गुस्से में हिमाचल की महिलाएं, उद्धव ठाकरे और राहुल गांधी को भेजी चूड़ियां

By Arvind Kumar - September 10, 2020 12:09 pm

शिमला। महाराष्ट्र में कंगना रनौत के ऑफिस को बीएमसी द्वारा तोड़े जाने के बाद हिमाचल प्रदेश में लोग कंगना के समर्थन में सड़कों पर उतर आए हैं। शिमला में भाजपा महिला मोर्चा और विभिन्न धार्मिक और सामाजिक संगठनों ने मिल कर महाराष्ट्र सरकार और कांग्रेस के खिलाफ धरना प्रदर्शन व नारेबाजी की।

महिलाओं ने कहा कि कंगना रनौत हिमाचल की बेटी है। प्रदेश की सभी महिलाएं और लोग कंगना के साथ खड़े हैं। कंगना का ऑफिस तोड़ना गैर कानूनी है क्यूंकि 30 सितंबर तक महाराष्ट्र में तोड़-फोड़ करना प्रतिबंधित है फिर भी कंगना का दफ्तर तोड़ा गया।

Himachal's women sent Bangles to Uddhav Thackeray and Rahul Gandhi

भाजपा महिला मोर्चा कि प्रदेश महामंत्री शीतल व्यास ने कहा कि कंगना ने सुशांत सिंह के मामले और और ड्रग्स को लेकर अपनी आवाज बुलंद की है। इसलिए महाराष्ट्र सरकार ने इस तरह की कायराना हरकत की है। शिवसेना शेरों की पार्टी कही जाती है लेकिन जो घटना हिमाचल की बेटी के साथ की गयी हैं वह हरकत गीदढ़ की है।
महिला मोर्चा हिमाचल की अध्यक्ष जो पहले ही कंगना के घर तोड़ने के बदले प्रियंका गांधी के शिमला में घर तोड़ने की धमकी दे चुकी है, ने कहा है कि कांग्रेस पार्टी जो महिला के अधिकारों और सुरक्षा की दुहाई देती है वह पूरे मामले को लेकर चुप है। महिला मोर्चा ने कंगना के साथ हुई इस घटना के लिए उद्धव ठाकरे, संजय राउत और राहुल गांधी को चूड़ियां भेजी हैं और चेतावनी दी है कि अगर शिवसेना अपनी हरकतों से बाज नहीं आई तो हिमाचल से हजारों महिलायें महाराष्ट्र जाकर शिवसेना के दफ्तर का घेराव करेंगी।

---PTC NEWS---

adv-img
adv-img