adv-img
अपराध/हादसा

हरियाणा में बढ़ा नशे का ग्राफ, इस साल अब तक 84 युवाओं की हुई मौत

By Vinod Kumar -- November 19th 2022 12:47 PM
हरियाणा में बढ़ा नशे का ग्राफ, इस साल अब तक 84 युवाओं की हुई मौत

चंडीगढ़़: हरियाणा में नशे की समस्या बढ़ती जा रही है। इसके साथ ही हर साल नशे से मौत के मामले भी बढ़ते जा रहे हैं। इस साल अब तक 84 युवा नशे की ओवरडोज से दम तोड़ चुके हैं। नशे की ओवरडोज से मरने वालों की उम्र 18 से 35 साल के बीच है। इन आंकड़ों ने हरियाणा की BJP-JJP सरकार में खलबली मचा दी है।  

आंकड़े सामने आने के बाद सीएम मनोहर लाल ने एक मीटिंग में अफसरों को कड़ी फटकार लगाई है। सीएम की फटकार सुनने के बाद नशे के खिलाफ मुहिम चलाने के लिए प्रदेभर में साढ़े 3 हजार टीमें गठित की गई हैं। इनमें 30 हजार अधिकारी और कर्मचारी शामिल हैं। सहयोग के लिए इस टीम से 45 हजार आम लोगों को भी इस टीमों के साथ जोड़ा गया है।

अब ये टीमें नशा तस्करों का रिकार्ड तैयार कर जल्द ही छापेमारी शुरू करेंगी। नशा तस्करों की शिकायत के लिए राज्य सरकार ने एंटी ड्रग्स हेल्पलाइन नंबर 90508-91508 जारी किया है। इस नंबर पर सूचना देकर लोग नशा माफिया की शिकायत कर सकते हैं। अब इस नंबर को सार्वजनिक स्थानों, पार्क, बसों में भी चस्पा किया जाएगा, ताकि इस नंबर के बारे में लोगों को भी पता चल सके।

हरियाणा नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक हरियाणा में नशे की सप्लाई में 18% की बढ़ोतरी हुई है। इसमें सिंथेटिक ड्रग्स (हेरोइन, कोकीन) समेत गांजा, चरस, अफीम, स्मैक, कैप्सूल और कफ सिरप जैसे मादक पदार्थ शामिल हैं। यह नशा पंजाब, हिमाचल, दिल्ली, उड़ीसा समेत अन्य राज्यों से सप्लाई किया जा रहा है।


- PTC NEWS

adv-img
  • Share