adv-img
राजनीति

himachal election2022: सोलन में केजरीवाल-पंजाब सरकार मुर्दाबाद के लगे नारे, रोड़ शो बीच मे छोड़ वापिस लौटे अरविंद केजरीवाल

By Vinod Kumar -- November 3rd 2022 05:33 PM -- Updated: November 3rd 2022 06:25 PM
himachal election2022: सोलन में केजरीवाल-पंजाब सरकार मुर्दाबाद के लगे नारे, रोड़ शो बीच मे छोड़ वापिस लौटे अरविंद केजरीवाल

सोलन/रमित सोनी: हिमाचल प्रदेश (himachal election2022) के सोलन में वीरवार को दिल्ली के सीएम और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल हिमाचल विधानसभा चुनाव को लेकर चुनाव प्रचार करने के लिए आए थे, रोड शो के दौरान पंजाब से आए ईटीटी अध्यापकों ने अरविंद केजरीवाल से बात करनी चाही, लेकिन उनसे बात न होने पर वे हाथों में बैनर लेकर केजरिवाल और भगवंत मान की तरफ नारेबाजी करने लगे,ऐसे में वहां खड़े आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने उन लोगों के साथ बहस करनी शुरू कर दी। 

माहौल इतना तनावपूर्ण हुआ कि अरविंद केजरीवाल को रोड शो पर छोड़कर वापस जाना पड़ा, अरविंद केजरीवाल इस माहौल को देखते हुए ये कहते हुए भी नजर आये की ये लोग भाजपा कांग्रेस के गुंडे हैं, जो माहौल बिगाड़ने आए हैं। वहीं जिन अध्यापकों की तरफ से अपनी मांगों को लेकर नारेबाजी की जा रही थी, उनको पुलिस ने हिरासत में लिया है। अध्यापकों ने कहा कि चाहे उन्हें गोली मार दी जाए, लेकिन उनकी मांग की ओर ध्यान दिया।

पंजाब से आए ईटीटी अध्यापकों का कहना है कि पंजाब में 6 साल की सर्विस उनकी खत्म की जा चुकी है और देश भर में यह पहली भर्ती है, जिस पर डबल प्रोवेशन लगाया गया है वह मजबूर हो चुके हैं, इसीलिए हिमाचल में लोगों को जागरूक करने के लिए आए हैं। उन्होंने कहा कि पंजाब में 180 ईटीटी अध्यापकों के साथ गैरकानूनी तरीके से धोखा किया जा रहा है, जो कि गलत है और मांगें पूरी होने का वादा पंजाब सरकार ने उनके साथ किया था, लेकिन उसको पूरा नहीं किया जा रहा है।

पंजाब से ईटीटी अध्‍यापक संघ के सदस्‍य रोड शो के बीच पर्चे बांट रहे थे। पर्चे में लिखा है कि पंजाब में ईटीटी अध्‍यापकों के साथ किए वादे से मुकर गई है। 4500 शिक्षकों की भर्ती में चुने गए थे, लेकिन बिना किसी वजह के उनका वेतन आधा कर दिया।

केजरीवाल की तरफ पर्चे फेंकने पर आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता गुस्से में आ गए। कार्यकर्ताओं ने हंगामा कर रहे लोगों से मारपीट शुरू कर दी। पुलिस ने बीच-बचाव करके स्थिति को संभाला। यह पूरा हंगामा अरविंद केजरीवाल के भाषण के दौरान हुआ। इसके बाद केजरीवाल ने अपना भाषण पांच मिनट में ही पूरा कर दिया।

- PTC NEWS

adv-img
  • Share