adv-img
अपराध/हादसा

करनाल में आशा वर्कर की हत्या, रास्ते से हटाना चाहता था प्रेमी

By Vinod Kumar -- November 17th 2022 01:55 PM
करनाल में आशा वर्कर की हत्या, रास्ते से हटाना चाहता था प्रेमी

करनाल/डिंपल: हरियाणा के करनाल जिले में एक प्रेमी ने अपनी प्रेमिका से छुटकारा पाने के लिए उसकी हत्या करके उसके शव को बोरे में डाल कर नाले में फेंक दिया। मामले का खुलासा आरोपी ने खुद पुलिस पूछताछ किया। फिलहाल आरोपी पुलिस की गिरफ्त में है।  

करनाल के न्यू प्रीतम नगर की रहने वाली एक आशा वर्कर रेनू मूल रूप से समालखा की रहने वाली थी। साल 2005 में करनाल के न्यू प्रीतम नगर के रहने वाले परविंद्र के साथ रेनू के शादी हुई थी। जानकारी के अनुसार दो माह पहले रेनू 19 सितंबर को अपने घर से सुबह साढ़े आठ बजे कोट मौहल्ला के पास रामगली डिस्पेंसरी में ड्यूटी के लिए अपनी स्कूटी पर निकली थी। पति को 10 बजे तक घर वापस लौटने की बात कही थी, लेकिन शाम पांच बजे तक भी वह घर वापस नहीं लौटी। 

खोजबीन के बाद रेनू का कोई सुराग हाथ नहीं लगा तो परिजनों ने सेक्टर-4 पुलिस चौकी में उसके लापता होने की शिकायत दर्ज कराई थी। परिजनों ने यूपी निवासी एक आरोपी पर संदेह जताया था, परिजनों की तहरीर के आधार पर दो दिन पहले ही पुलिस ने आरोपी रविन्द्र को भी पूछताछ के लिए हिरासत में लिया था।  

पुलिस की जांच में सामने आया कि चार साल से रेनू के साथ आरोपी का प्रेम प्रंसग चल रहा था। 8 माह पहले किसी बात को लेकर इन दोनों में झंगडा हुआ था, जिसके बाद रेनू ने इसकी शिकायत पुलिस में भी की थी। रेनू अब भी उससे प्रेम करती थी, लेकिन रविंद्र अब वह इस रिश्ते को खत्म करना चाहता था। रेनू को रास्ते से हटाने के लिए रविंद्र ने 19 सितंबर को उसकी हत्या कर शव को बोरी में डालकर उसे गंदे नाले में फेंक दिया था।

मृतका के परिजनों ने बताया कि जब रेनू लापता हुई थी तो उसके करीब 6 दिन बाद उसकी स्कूटी पुलिस को मधुबन पक्के पुल के पास से बरामद हुई थी।

- PTC NEWS

adv-img
  • Share