Mon, Feb 6, 2023
Whatsapp

सर्दियों में कमरे में जलती हुई अंगीठी है जानलेवा, बहादुरगढ़ में तीन युवकों की मौत

बहादुरगढ़ में दम घुटने से तीन लोगों की मौत का मामला सामने आया है। तीनों अंदर लकड़ियां जलाकर आराम कर रहे थे। सुबह के समय जब तीनों कमरे से बाहर नहीं आए तो ठेकेदार ने आकर देखा सबकी दम घुटने से मौत हो चुकी थी। ये सभी बहादुरगढ़ की एचएसआईआईडीसी सेक्टर 16 स्थित योकोहमा टायर फैक्ट्री में काम करते थे।

Written by  Vinod Kumar -- December 27th 2022 06:29 PM
सर्दियों में कमरे में जलती हुई अंगीठी है जानलेवा, बहादुरगढ़ में तीन युवकों की मौत

सर्दियों में कमरे में जलती हुई अंगीठी है जानलेवा, बहादुरगढ़ में तीन युवकों की मौत

बहादुरगढ़/प्रदीप धनखड़: दम घुटने से तीन लोगों की मौत का मामला सामने आया है। तीनों ने ठंड से बचने के लिए तीनों ने कमरे की सभी खिड़कियां बंद कर दी थीं। तीनों अंदर लकड़ियां जलाकर आराम कर रहे थे। सुबह के समय जब तीनों कमरे से बाहर नहीं आए तो ठेकेदार ने आकर देखा सबकी दम घुटने से मौत हो चुकी थी। 

पुलिस को मामले की सूचना दी गई। सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरू की गई। बहादुरगढ़ के सेक्टर 6 थाना प्रभारी सुनील कुमार ने बताया कि मृतकों की पहचान मुनेश, कल्लू और सैफिजुल मेहेना के रूप में हुई है। मुनेश और कल्लू उत्तराखंड के हरिद्वार जिले के मुंडाखेरा गांव के रहने वाले हैं। वहीं, सैफिजुल मेहेना पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिले का रहने वाला है। 


ये सभी बहादुरगढ़ की एचएसआईआईडीसी सेक्टर 16 स्थित योकोहमा टायर फैक्ट्री में काम करते थे और कसार गांव में इन्होंने रहने के लिए किराए पर कमरा ले रखा था। इसी कमरे में शाम के समय काम खत्म करने के बाद तीनों आराम कर रहे थे। कमरे में ही ठंड से बचने के लिए लकड़ियां जलाई गई थी। सुबह तीनों के शव कमरे से बरामद हुए हैं। 

थाना प्रभारी सुनील कुमार का कहना है कि प्रारंभिक जांच में मामला दम घुटने से मौत का लग रहा है, लेकिन पुलिस मामले की गहनता से जांच में जुटी हुई है। इतना ही नहीं फोरेंसिक टीम को भी मौके पर बुलाया गया है। शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए बहादुरगढ़ के सामान्य अस्पताल भिजवाया गया है। साथ ही मृतकों के परिजनों को घटना से अवगत करवाया गया है।  

- PTC NEWS

adv-img
  • Tags

Top News view more...

Latest News view more...