Mon, Jan 30, 2023
Whatsapp

चिरायु हरियाणा योजना के लाभार्थियों से सीएम ने किया संवाद, कहा: वरदान साबित हो रही ये योजना

चिरायु हरियाणा योजना के लाभार्थियों ने फोन के माध्यम से मुख्यमंत्री मनोहर लाल से शनिवार को सीधा संवाद किया। इस दौरान सीएम मनोहर लाल ने कहा कि 21 नवम्बर , 2022 से अब तक 10 हजार 378 लागों को मुफ्त इलाज प्रदान किया जा चुका है। इस पर हुए 19 करोड़ 13 लाख रुपये का खर्च सरकार ने उठाया है।

Written by  Vinod Kumar -- January 08th 2023 01:00 PM
चिरायु हरियाणा योजना के लाभार्थियों से सीएम ने किया संवाद, कहा:  वरदान साबित हो रही ये योजना

चिरायु हरियाणा योजना के लाभार्थियों से सीएम ने किया संवाद, कहा: वरदान साबित हो रही ये योजना

चंडीगढ़: चिरायु हरियाणा योजना के लाभार्थियों ने फोन के माध्यम से मुख्यमंत्री मनोहर लाल से शनिवार को सीधा संवाद किया। संवाद कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार शिक्षा, स्वास्थ्य, सुरक्षा स्वाभिमान और स्वावलंबन पर निरंतर कार्य कर रही है। 

सीएम मनोहर लाल ने कहा कि जब कभी गरीब परिवार पर किसी बीमारी का संकट आता है तो वह आर्थिक बोझ के कारण और भी टूट जाता है। ऐसे परिवारों की चिंता करते हुए ही राज्य सरकार ने आयुष्मान भारत योजना की तर्ज पर 21 नवम्बर , 2022 को चिरायु हरियाणा योजना शुरू की है। इसके तहत सालाना 5 लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज की सुविधा प्रदान की जा रही है। 21 नवम्बर , 2022 से अब तक 10 हजार 378 लागों को मुफ्त इलाज प्रदान किया जा चुका है। इस पर हुए 19 करोड़ 13 लाख रुपये का खर्च सरकार ने उठाया है। 


सीएम मनोहर लाल ने कहा कि पहले उन परिवारों को बीपीएल में शामिल किया गया था, जिनकी वार्षिक आय 1 लाख 20 हजार रुपये से कम थी। राज्य सरकार ने यह आय सीमा बढ़ाकर 1 लाख 80 हजार रुपये वार्षिक कर दी। इससे नए परिवार बीपीएल में आ गए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्ष 2018 में आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना शुरू की थी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि केन्द्र सरकार के मानदण्डों के अनुसार आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थी परिवारों का चयन आर्थिक सामाजिक व जातीय जनगणना-2011 के आधार पर किया गया है। इसके अनुसार हरियाणा में 15,51,798 परिवार इस योजना में कवर हो रहे थे। इनमें से लगभग 9 लाख परिवार इस योजना का लाभ उठा रहे थे। चिरायु योजना लागू करने से प्रदेश में अब लगभग 20 लाख परिवार और इस योजना में आ गए हैं। अब 28,89,036 परिवार कवर हो रहे हैं।

उन्होंने कहा कि सरकार ने वर्ष 2023 को अंत्योदय आरोग्य वर्ष के रूप में मनाने का संकल्प लिया है। इस वर्ष के दौरान हमारा यही प्रयास है कि हर व्यक्ति निरोगी रहे और बिमार न हो। परंतु फिर भी यदि बिमारी रूपी संकट गरीब परिवारों पर आता है तो वे आयुष्मान भारत तथा चिरायु हरियाणा योजना का लाभ उठाएं।


- PTC NEWS

adv-img
  • Tags

Top News view more...

Latest News view more...